खेल

5 साल बाद हुई इस पाकिस्तानी बल्लेबाज की वापसी, अब दिखाएगा कमाल

Gulabi
30 Jun 2021 4:22 PM GMT
5 साल बाद हुई इस पाकिस्तानी बल्लेबाज की वापसी, अब दिखाएगा कमाल
x
इंग्लैंड दौरे पर गई पाकिस्तान क्रिकेट टीम इस समय डर्बीशायर में है

इंग्लैंड दौरे पर गई पाकिस्तान क्रिकेट टीम इस समय डर्बीशायर में है और आगामी सीरीज के लिए अभ्यास में जुटी हुई है। इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच तीन वनडे और तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों की सीरीज खेली जानी है जिसका आगाज 8 जुलाई को कार्डिफ में होगा। वैसे तो पाकिस्तानी टीम में कई खिलाड़ी मौजूद हैं, लेकिन एक खिलाड़ी ऐसा है जिस पर सबकी निगाहें टिकी हुई हैं। पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल 2021) जब चल रही थी, उसी बीच में राष्ट्रीय टीम का चयन हुआ और उन्हें टीम में शामिल करने से चयनकर्ता खुद को रोक नहीं सके। अब ये बल्लेबाज हुंकार भर रहा है।

हम यहां बात कर रहे हैं 34 वर्षीय पाकिस्तानी बल्लेबाज सोहेब मकसूद की। कुछ लोगों के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में ये नाम नया होगा लेकिन ऐसा है नहीं। सोहेब मकसूद को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में खेलना का अच्छा अनुभव मिला था लेकिन उसके बाद वो टीम से ऐसा बाहर हुए कि दोबारा एंट्री नहीं हो सकी। अब वो लंबे समय के बाद पाकिस्तान सुपर लीग के 2021 संस्करण में धमाल मचाने के बाद टीम में लौटे हैं और इंग्लैंड के खिलाफ सीमित ओवर क्रिकेट सीरीज में धमाल मचाने को बेताब हैं।
5 साल बाद वापसी
सोहेब मकसूद का अंतरराष्ट्रीय करियर नवंबर 2013 में शुरू हुआ था जब उनको पहले वनडे टीम में जगह दी गई और उसके बाद टी20 टीम में शामिल किया गया। तीन साल तक वो टीम के सदस्य रहे लेकिन जनवरी 2016 न्यूजीलैंड दौरे के बाद उनको टीम से ऐसा बाहर किया गया, कि दोबारा एंट्री नहीं मिली। इस बीच घरेलू क्रिकेट के जरिए भी कोशिश की लेकिन चयनकर्ताओं ने उनको मौका नहीं दिया। अब 34 की उम्र में टीम में दोबारा एंट्री हुई है। उन्होंने 26 वनडे मैचों में 735 रन और 20 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 221 रन बनाए हैं।
PSL 2021 में बन गए सुपरस्टार
पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल 2021) का आधा हिस्सा यूएई शिफ्ट हुआ और जब ये दोबारा शुरू हुआ तो सोहेब मकसूद अलग ही अंदाज में सामने आए। मुल्तान सुल्तांस के लिए इस बल्लेबाज ने धमाकेदार प्रदर्शन किया और अपनी टीम को पहली बार चैंपियन भी बनाया। सोहेब मकसूद पीएसएल 2021 में प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट भी रहे। उन्होंने पूरे टूर्नामेंट में 428 रन जड़े। पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम ने उनसे भी ज्यादा 554 रन बनाए लेकिन फिर भी सोहेब के प्रदर्शन को बेहतर माना गया।
'मेरे पास कुछ खोने के लिए नहीं है'
सोहेब मकसूद ने इंग्लैंड पहुंचने के बाद पीसीबी से बातचीत में कई मुद्दों पर बात की और इसमें राष्ट्रीय टीम में अपनी वापसी को लेकर भी वो बोले। उन्होंने इस बारे में कहा- "मेरे ऊपर कोई दबाव नहीं है। मुझे पता है कि धरती घूमना बंद नहीं होगी अगर मैंने यहां से कुछ खोया। इसलिए मैं आक्रामक रवैये से खेलूंगा। मेरी सोच साफ है। मेरे पास कुछ भी खोने के लिए नहीं है।"
कहीं भी बल्लेबाजी को तैयार
वो अगर टीम में शामिल किए गए तो किस स्थान पर उनको उतारा जाएगा ये एक बड़ा सवाल है। इस पर मकसूद ने कहा, "मैंने पीएसएल के अबुधाबी वाले चरण में नंबर तीन पर बल्लेबाजी की। लेकिन इसी प्रतियोगिता में मैंने पांचवें नंबर पर भी बल्लेबाजी की। अगर आप मेरा घरेलू क्रिकेट करियर देखें तो मैंने कई नंबरों पर खेलते हुए रन बनाए हैं। इसलिए मैं टीम की जरूरत के हिसाब से किसी भी स्थान पर बल्लेबाजी के लिए तैयार हूं। जब आप देश से खेलते हो तो आपको उसी तरह से सोचना होता है।"
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta