खेल

इंग्लैंड के इस क्रिकेटर ने किया संन्यास का ऐलान, 22 साल तक चला करियर

Gulabi
21 July 2021 5:01 PM GMT
इंग्लैंड के इस क्रिकेटर ने किया संन्यास का ऐलान, 22 साल तक चला करियर
x
क्रिकेटर ने किया संन्यास का ऐलान

भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले इंग्लैंड के एक सीनियर खिलाड़ी ने संन्यास का ऐलान कर दिया है. इस खिलाड़ी ने इंग्लैंड के लिए दो टेस्ट और 20 वनडे मुकाबले खेले. इस क्रिकेटर का नाम है रिकी क्लार्क (Rikki Clarke). उनका कहना है कि वे 2021 के सीजन के बाद क्रिकेट को अलविदा कह देंगे. 39 साल के रिकी क्लार्क ने साल 2003 में बांग्लादेश के खिलाफ दो टेस्ट खेले थी. वहीं तीन साल तक इंग्लैंड टीम में रहते हुए 20 वनडे खेले थे. लेकिन 25 साल की उम्र होने से पहले ही टीम से बाहर हो गए और फिर कभी वापसी नहीं कर पाए. उन्हें 21 साल की उम्र में इंग्लैंड टीम का बुलावा आ गया था. फिर इंटरनेशनल करियर में पहली ही गेंद पर उन्होंने विकेट लेकर धूम मचा दी थी. लेकिन इसके बाद करियर में सुस्ती आ गई. उन्होंने दो टेस्ट में एक अर्धशतक की मदद से 96 रन बनाए और चार विकेट लिए. वहीं 20 वनडे में 144 रन बनाने के साथ ही 11 विकेट चटकाए.


रिकी क्लार्क घरेलू क्रिकेट में काफी कामयाब रहे. उन्होंने 2002 और 2019 में सरे और 2012 में वारविकशर की ओर से काउंटी चैंपियनशिप जीती. इसके अलावा सरे के लिए प्रो40 और टी20 कप तो वारविकशर के लिए टी20 ब्लास्ट और रॉयल लंदन कप जीता. 2008 में डर्बीशर के कप्तान के रूप में थोड़े समय के लिए खेले. घरेलू क्रिकेट में उन्होंने फर्स्ट क्लास, लिस्ट ए और टी20 में मिलाकर कुल 17,750 रन बनाए. साथ ही अपनी मीडिया पेस बॉलिंग से 795 विकेट लिए. फील्डिंग में भी उनका हाल शानदार रहा. उन्होंने 587 कैच लपके. वे अभी सरे टीम के साथ हैं और इस सीजन के आखिर तक रॉयल लंदन कप और काउंटी चैंपियनशिप खेलेंगे.

संन्यास का ऐलान करते हुए क्या बोले क्लार्क
संन्यास का ऐलान करते हुए उन्होंने कहा, 'जब मैंने सन् 2000 में क्रिकेट खेलना शुरू किया था तब मैंने सोचा नहीं था कि मेरा करियर ऐसा रहेगा. 2003 में टेस्ट और वनडे डेब्यू करना उनके करियर की हाईलाइट रहेगी. मेरे देश के लिए 22 बार खेलने का मौका कोई उनसे छीन नहीं सकता और इससे जुड़ी यादों पर मुझे काफी गर्व होता है. मैं इससे ज्यादा खेल सकता था लेकिन ऐसा नहीं हो पाया. मैं 22 सीजन में कुछ कमाल के क्रिकेटर्स के साथ और खिलाफ खेला हूं. इनमें से कुछ मेरे जीवनभर के दोस्त बने हैं. मैं खुशकिस्मत हूं कि सफल टीमों का हिस्सा बना और सभी घरेलू ट्रॉफी जीतने वाली टीमों के साथ रहा.'


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta