Top
खेल

BCCI के सामने आई सबसे बड़ी चुनौती, इस समस्या से कैसे निपटेंगे गांगुली और जय शाह

Chandravati Verma
4 May 2021 9:51 AM GMT
BCCI के सामने आई सबसे बड़ी चुनौती, इस समस्या से कैसे निपटेंगे गांगुली और जय शाह
x
IPL 2021 में पिछले दो दिनों में चार खिलाड़ियों सहित सपोर्ट स्टाफ का एक सदस्य कोरोना संक्रमित मिला है

IPL 2021 को टाल दिया गया है. टूर्नामेंट से जुड़े खिलाड़ियों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद यह फैसला लिया गया. IPL 2021 में पिछले दो दिनों में चार खिलाड़ियों सहित सपोर्ट स्टाफ का एक सदस्य कोरोना संक्रमित मिला है. आईपीएल की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि खिलाड़ियों की सेहत प्राथमिकता है. ऐसे में टूर्नामेंट को अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया गया है. इस फैसले के बाद बीसीसीआई प्रेसीडेंट सौरव गांगुली और सचिव जय शाह के सामने अब एक बड़ी चुनौती खड़ी हुई है. यह चुनौती विदेशी खिलाड़ियों को उनके घर पर तक पहुंचाने की है. आईपीएल 2021 में ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, बांग्लादेश, दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड और वेस्ट इंडीज के खिलाड़ी शामिल हैं. भारत में कोरोना की दूसरी लहर के चलते बहुत से देशों ने यहां से हवाई यात्रा बंद कर दी है. इससे आना-जाना मुश्किल हो गया है.

ऑस्ट्रेलिया के बहुत से क्रिकेटर आईपीएल में खेल रहे हैं. साथ ही कई पूर्व क्रिकेटर सपोर्ट स्टाफ का हिस्सा हैं. लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने भारत से आने वाले लोगों के प्रवेश को बंद कर दिया है. ऐसे में इन खिलाड़ियों को वापस उनके घर भेजने के बारे में बीसीसीआई को मशक्कत करनी होगी. वहीं ब्रिटेन जाने पर वहां की सरकार ने 10 दिन के क्वारंटीन का नियम बना रखा है. इसके तहत दूसरे और आठवें दिन टेस्ट होगा और सरकार की ओर से अप्रूव की गई होटल में ठहरना होगा. हालांकि न्यूजीलैंड में अभी एंट्री बंद नहीं हुई है. इसी तरह से वेस्ट इंडीज और दक्षिण अफ्रीका में जाने की मनाही नहीं हैं.
यूएई ने भी भारतीय फ्लाइट्स पर लगाई रोक
बीसीसीआई ने पिछले सप्ताह कहा था कि सभी खिलाड़ियों को घर तक पहुंचाने के बाद ही आईपीएल पूरा होगा. ऐसे में माना जाता है कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड खिलाड़ियों को अपने संपर्कों के जरिए उनके घर तक पहुंचाएगी. इसके लिए वह खिलाड़ियों के संबंधित क्रिकेट बोर्ड से भी बात कर रही है. बीसीसीआई के सामने एक बड़ी समस्या यह है कि यूएई ने भी भारत से आने वाली फ्लाइट्स पर रोक लगा दी है. यूएई से दुनिया के किसी भी कोने में जाने में आसानी होती है. लेकिन अब वहां भारतीय फ्लाइट के नहीं जाने से बीसीसीआई को दूसरा रास्ता ढूंढ़ना होगा. ऐसे में बोर्ड को चार्टर प्लेन के जरिए खिलाड़ियों को भेजने की व्यवस्था करनी पड़ सकती है.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it