खेल

टीम इंडिया के 11 खिलाड़ियों को सेलेक्टर्स ने किया नजरअंदाज

Subhi
23 May 2022 6:16 AM GMT
टीम इंडिया के 11 खिलाड़ियों को सेलेक्टर्स ने किया नजरअंदाज
x
बीसीसीआई ने रविवार को टी20 और टेस्ट टीम का ऐलान किया. टी20 टीम को अगले महीने साउथ अफ्रीका से घर में 5 मैचों की टी20 सीरीज खेलनी है. केएल राहुल को टीम की कमान दी गई है.

बीसीसीआई (BCCI) ने रविवार को टी20 और टेस्ट टीम का ऐलान किया. टी20 टीम को अगले महीने साउथ अफ्रीका से घर में 5 मैचों की टी20 सीरीज खेलनी है. केएल राहुल को टीम की कमान दी गई है. ऋषभ पंत को उप-कप्तान बनाया गया है. वहीं 1 जुलाई से टीम को इंग्लैंड से टेस्ट खेलना है. टेस्ट टीम के कप्तान रोहित शर्मा हैं. लेकिन आईपीएल 2022 (IPL 2022) में अच्छा प्रदर्शन करने वाले कई खिलाड़ी टी20 टीम में जगह नहीं बना सके. इससे फैंस निराश हैं. इसमें शिखर धवन से लेकर संजू सैमसन तक का नाम है. इससे पहले खबर आ रही थी कि धवन को टीम का कप्तान बनाया जा सकता है. आइए आपको बताते हैं वे कौन से 11 खिलाड़ी हैं, जो भारतीय टीम में जगह पाने के हकदार थे:

1.शिखर धवन: शिखर धवन लगातार दूसरे आईपीएल सीजन में अपनी टीम की ओर से सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे. उन्होंने मौजूदा सीजन में पंजाब किंग्स की ओर से खेलते हुए 14 पारियों में 38 की औसत से 460 रन बनाए. 3 अर्धशतक लगाया. स्ट्राइक रेट 123 का रहा. दूसरी ओर ईशान किशन को टी20 टीम में शामिल किया गया है. उन्होंने 14 पारियों में 32 की औसत से 418 रन बनाए. 3 अर्धशतक लगाया. स्ट्राइक रेट 120 का रहा.

2.संजू सैमसन: संजू सैमसन की अगुआई में राजस्थान रॉयल्स ने टी20 लीग के 15वें सीजन में कमाल का प्रदर्शन किया है. टीम टेबल में नंबर-2 पर है. विकेटकीपर बल्लेबाज सैमसन ने 14 पारियों में 29 की औसत से 374 रन बनाए. 2 अर्धशतक लगाया. स्ट्राइक रेट 147 का रहा. वहीं ऋषभ पंत ने 12 पारियों में 31 की औसत से 340 रन बनाए. वे एक भी अर्धशतक नहीं जड़ सके. स्ट्राइक रेट 152 का रहा.

3.तिलक वर्मा: 19 साल के युवा बल्लेबाज तिलक वर्मा ने अपने प्रदर्शन से सबका ध्यान खींचा. मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने कहा था कि वे जल्द टीम इंडिया की ओर से तीनों फॉर्मेट में उतर सकते हैं. उन्होंने 14 पारियों में 36 की औसत से 397 रन बनाए. 2 अर्धशतक लगाया. स्ट्राइक रेट 131 का रहा. वहीं वेंकटेश अय्यर 12 पारियों में 17 की औसत से सिर्फ 182 रन ही बना सके. एक अर्धशतक लगाया. स्ट्राइक रेट 108 का रहा.

4.राहुल त्रिपाठी: राहुल त्रिपाठी ने केकेआर की ओर से खेलते हुए अच्छा प्रदर्शन किया. उन्होंने 14 पारियों में 38 की औसत से 413 रन बनाए. 3 अर्धशतक लगाया. स्ट्राइक रेट 158 का रहा. वहीं श्रेयस अय्यर ने 14 पारियों में 31 की औसत से 401 रन बनाए. स्ट्राइक रेट 135 का रहा. 3 अर्धशतक जड़ा.

5.पृथ्वी शॉ: दिल्ली के ओपनर बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने 10 मैच में 28 की औसत से 283 रन बनाए. 2 अर्धशतक लगाया. उनका स्ट्राइक रेट 153 का है. पिछले 3 आईपीएल सीजन से उनका स्ट्राइक रेट 150 से ऊपर है. अन्य कोई भारतीय बल्लेबाज उनके आस-पास नहीं है. फिर भी उन्हें अनदेखा किया गया.

6.मोहम्मद शमी: सीनियर तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने टी20 लीग के 15वें सीजन में कमाल का प्रदर्शन किया है. उन्होंने नई गेंद से लगभग हर मैच में गुजरात टाइटंस को विकेट दिलाए. लेकिन वे भी टी20 टीम में जगह नहीं बना सके. उन्होंने 14 मैच में 23 की औसत से 18 विकेट लिए हैं. एक अन्य तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने 14 मैच में 12 विकेट झटके.

7.टी नजराजन: सनराइजर्स हैदराबाद से खेलने वाले इस बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने 11 मैच में 18 विकेट लिए. औसत से 23 का और इकोनॉमी 9.44 की रही. फिर भी उन्हें टीम में मौका नहीं मिला. वहीं आवेश खान ने 12 मैच में 17 विकेट लिए हैं. औसत 22 का है.

8.मुकेश चौधरी: चेन्नई सुपरकिंग्स की ओर से खेलते हुए इस तेज गेंदबाज ने भी पहले आईपीएल सीजन में अच्छा छाप छोड़ी. उन्होंने 13 मैच में 27 की औसत से 16 विकेट झटके. वे नई गेंदबाज से टीम को सफलता दिलाते थे. इनका भी प्रदर्शन भुवनेश्वर कुमार पर भारी रहा.

9.मोहसिन खान: लखनऊ सुपर जायंट्स से खेलने वाले बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने कमाल का प्रदर्शन किया. उन्होंने 8 मैच में 13 की औसत से 13 विकेट लिए. इकोनॉमी सिर्फ 5.93 की रही. वहीं अर्शदीप सिंह ने 14 मैच में 39 की औसत से 10 विकेट लिए. इकोनॉमी 7.70 की रही.

10.वॉशिंगटन सुंदर: चोट से वापसी करते हुए युवा ऑफ स्पिनर वॉशिंगटन सुंदर ने भी अच्छा खेल दिखाया. उन्होंने 7 पारियों में 14 की औसत से 101 रन बनाए. स्ट्राइक रेट 146 का रहा. इसके अलावा उन्होंने 6 विकेट भी लिए. इकोनॉमी 8.53 की रही. वे वेंकटेश अय्यर के विकल्प हो सकते हैं.

11.मयंक अग्रवाल: मयंक अग्रवाल का टेस्ट में प्रदर्शन अच्छा रहा है. वे अंतिम सीरीज में हालांकि श्रीलंका के खिलाफ 2 मैच में सिर्फ 59 रन ही बना सके थे. सीरीज में रोहित शर्मा और विराट कोहली भी अर्धशतक नहीं लगा सके. मयंक ने 21 टेस्ट में 41 की औसत से 1488 रन बनाए हैं. 4 शतक और 6 अर्धशतक लगाया है.

भारतीय टी20 टीम: केएल राहुल (कप्तान), ऋतुराज गायकवाड़, ईशान किशन, दीपक हुडा, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत, दिनेश कार्तिक, हार्दिक पंड्या, वेंकटेश अय्यर, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, अक्षर पटेल, रवि बिश्नोई, भुवनेश्वर कुमार, हर्षल पटेल, आवेश खान, अर्शदीप सिंह और उमरान मलिक.

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta