खेल

T20 World Cup: विश्व कप से वेस्टइंडीज के बाहर होने के बाद लिया फैसला

Nidhi Singh
5 Nov 2021 4:16 AM GMT
T20 World Cup: विश्व कप से वेस्टइंडीज के बाहर होने के बाद लिया फैसला
x
वेस्टइंडीज के हरफनमौला खिलाड़ी ड्वेन ब्रावो ने पुष्टि की कि वो टी20 विश्व कप 2021 के अंत में संन्यास ले लेंगे।

वेस्टइंडीज के हरफनमौला खिलाड़ी ड्वेन ब्रावो ने पुष्टि की कि वो टी20 विश्व कप 2021 के अंत में संन्यास ले लेंगे। वेस्टइंडीज टीम के टी20 विश्व कप से बाहर होने के बाद ब्रावो ने ये फैसला लिया है। गुरुवार को श्रीलंका के खिलाफ मैच में कैरियबियाई टीम को 20 रनों से हार का सामना करना पड़ा। इस हार के साथ ही वेस्टइंडीज के सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें पूरी तरह खत्म हो गईं। यह टीम शनिवार को अबू धाबी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना अंतिम ग्रुप 1 मैच खेलेगा। ब्रावो ने स्वीकार किया कि यह वह विश्व कप नहीं था जो वो चाहते थे।

श्रीलंका के खिलाफ मैच के बाद फेसबुक लाइव शो में ब्रावो ने कहा "मुझे लगता है कि समय आ गया है। मेरा करियर बहुत ही शानदार रहा। मैंने 18 सालों तक वेस्टइंडीज का प्रतिनिधित्व किया। इस दौरान कई उतार-चढ़ाव आए, लेकिन जब मैं पीछे मुड़कर देखता हूं तो मुझे बहुत अच्छा महसूस होता है कि मैंने इतने लंबे समय तक अपने क्षेत्र और कैरिबियाई लोगों का प्रतिनिधित्व किया। तीन आईसीसी ट्रॉफी जीतना भी बेहद खास था। इनमें से दो मैंने अपने कप्तान (डेरेन सैमी) के साथ जीती, जो अभी भी मेरे बाईं तरफ मौजूद हैं। एक बाज जिस पर मुझे गर्व है वो यह है कि इस दौर में जिस तरह के क्रिकेटर्स हैं, हम उनके बीच अंतर्राष्ट्रीय स्तर अपनी एक पहचान बनाने में कामयाब रहे हैं।"

युवा खिलाड़ियों की करेंगे मदद

ड्वेन ब्रावो ने फेसबुक लाइव में कहा "मेरे पास जो भी जानकारी है, मैं अब उसे अगली पीढ़ी के खिलाड़ियों को देना चाहूंगा। मुझे लगता है कि सीमित ओवर के क्रिकेट में वेस्टइंडीज का भविष्य काफी बेहतर है। हमें खिलाड़ियों को सपोर्ट करने और उनका आत्मविश्वास बढ़ाने की जरूरत है।" उन्होंने कहा "यह वो वर्ल्डकप नहीं था, जिसकी उम्मीद हमने की थी। यह वो वर्ल्डकप नहीं था, जो हम एक खिलाड़ी के रूप में चाहते थे। हमें खुद के लिए खेद नहीं महसूस करना चाहिए। यह काफी मुश्किल प्रतियोगिता थी और हमें बेहतर प्रदर्शन करना था।"

2004, 2012 और 2016 में जीता आईसीसी टूर्नामेंट

ब्रावो ने वेस्टइंडीज के लिए तीन ट्राफी जीती हैं। साल 2004 में चैंपियंस ट्राफी जीतने वाली टीम में ब्रावो शामिल थे। इसके बाद उनकी मौजूदगी में वेस्टइंडीज 2012 और 2016 में टी-20 वर्ल्डकप का चैंपियन बना। ब्रावो ने वेस्टइंडीज के लिए 90 टी-20 मैचों में 78 विकेट लिए हैं और एक हजार से ज्यादा रन बनाए हैं। साल 2004 में अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर की शुरुआत करने वाले ब्रावो ने 293 मैच खेले हैं। डेथ ओवरों में गेंद और बल्ले दोनों के साथ वो काफी उपयोगी खिलाड़ी रहे हैं।

खराब शुरुआत से नहीं उबर सकी वेस्टइंडीज

श्रीलंका के खिलाफ मैच में पहले गेंदबाजी करते हुए कैरिबियाई टीम ने 189 रन लुटा दिए। इसके बाद 190 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए वेस्टइंडीज शुरुआती दो ओवरों में दो विकेट गंवा चुकी थी। वहीं पावरप्ले में उनके तीन विकेट गिर चुके थे। इसके बाद यह टीम वापसी नहीं कर सकी। हालांकि सिमरन हेटमेयर ने जरूरी अर्धशतकीय पारी खेली, लेकिन वो भी अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta