खेल

सानिया मिर्जा ने मातृत्व के अपने भावनात्मक अनुभव को साझा करते हुए कई ये बात

Bharti sahu
25 Nov 2020 11:10 AM GMT
सानिया मिर्जा ने मातृत्व के अपने भावनात्मक अनुभव को साझा करते हुए कई ये बात
x
भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्जा सभी माताओं के लिए एक खुला पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने मातृत्व के अपने भावनात्मक अनुभव को साझा किया है

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्जा सभी माताओं के लिए एक खुला पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने मातृत्व के अपने भावनात्मक अनुभव को साझा किया है और सभी बाधाओं को टालने और खेल में वापसी करने पर अहम बातें कहीं हैं। सानिया ने ग्रैंड स्लैम विजेता खिलाड़ी सेरेना विलियमसन की डॉक्यूमेंट्री 'बीइंग सेरेना' देखने के बाद लिखी। 'बीइंग सेरेना' एक महिला के रूप में अपनी भूमिका के साथ संतुलन बनाने की कोशिश करते हुए कोर्ट पर वर्चस्व की वापसी की कहानी है। यह सेरेना के पेशेवर और व्यक्तिगत जीवन में बदलते क्षणों को भी दर्शाता है।

सानिया ने बुधवार को खुले पत्र में कहा- गर्भावस्था एक ऐसी चीज है जिसे मैंने अपने जीवन में पहली बार अनुभव किया था। मैंने इसके बारे में सोचा था और मुझे लगता है कि हम सभी के मन में इसके बारे में एक निश्चित तस्वीर है लेकिन एक बार जब आप इसे अनुभव करते हैं, तो आप वास्तव में इसका मतलब समझ जाते हैं। यह आपको मानव के तौर पर बिल्कुल बदल देता है।सेरेना को देखा जाना। उसी युग में खेलना और उसके आस-पास होना और उसकी मनोरंजक डॉक्यूमेंट्री 'बीइंग सेरेना' को देखना उसे वास्तविकता में देखने जैसा था। यह उसके व्यक्तित्व, उसकी लड़ाई की भावना, उसके जुनून और उसकी इच्छा के बारे में बहुत कुछ दिखाता है।

पद्म भूषण सम्मान हासिल कर चुकी सानिया ने उन सभी माताओं को पत्र समर्पित किया जो अपने रोजमर्रा के जीवन में समान दुविधाओं का सामना कर रहे हैं। उन्होंने लिखा- गर्भावस्था के बाद आकार और रूप में वापस आना एक चुनौती हो सकती है और मैं उस पर सेरेना और हर दूसरी महिला से संबंधित हो सकती हूं। मुझे लगता है कि यह सभी के लिए सामान्य है क्योंकि आप नहीं जानते कि आपका शरीर गर्भावस्था के बाद और दौरान कैसे प्रतिक्रिया देने वाला है।

अंत में, भारतीय टेनिस स्टार ने अपनी परिवर्तन यात्रा का चित्रण करते हुए और कोर्ट में होने की खुशी को दर्शाते हुए कहा- मेरी गर्भावस्था के दौरान लगभग 23 किलोग्राम वजन बढऩे से मुझे यकीन नहीं था कि मैं कभी फिट हा पाऊंगी या फिर से टेनिस खेल पाऊंगी। हालांकि, मैंने बहुत सारी वर्कआउट की। सख्त डाइट प्लान के साथ लगभग 26 किलो वजन कम किया। मैं टेनिस में वापसी कर पाई क्योंकि यह ऐसा था क्योंकि मैं टेनिस से प्यार करती थी। आखिरकार- जब मैं वापस आई अैर होबार्ट में जीती तो यह बहुत अद्भुत अहसास था।

मदरहुड को गले लगाने और खेल से लगभग दो साल के ब्रेक के बाद जनवरी 2020 में पहला युगल खिताब जीतने वाली सानिया ने शानदार वापसी की थी। डब्ल्यूटीए होबार्ट इंटरनेशनल 2020 में उन्होंने यूके्रनी साथी नाडिया किचेनोक के साथ डबल्स का खिताब जीतकर इस तथ्य को पुख्ता कर दिया कि उन्होंने दूसरी पारी वहीं से शुरू की जहां से पहली छोड़ी थी।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta