खेल

ऋषभ पंत दूसरी पारी में 0 पर आउट, गौतम गंभीर बोले- बेवकूफी…

Gulabi
5 Jan 2022 10:44 AM GMT
ऋषभ पंत दूसरी पारी में 0 पर आउट, गौतम गंभीर बोले- बेवकूफी…
x
टीम इंडिया के विकेटकीपर ऋषभ पंत को टेस्ट क्रिकेट में एक गेमचेंजर के तौर पर देखा जाता है
टीम इंडिया के विकेटकीपर ऋषभ पंत को टेस्ट क्रिकेट में एक गेमचेंजर के तौर पर देखा जाता है. मिडिल ऑर्डर में उतरकर वो ताबड़तोड़ बल्लेबाज कर पूरा मैच पलटकर रख देते हैं. जोहानिसबर्ग टेस्ट की दूसरी पारी में भी उनसे यही उम्मीद थी लेकिन पंत उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे. उलटा पंत ने जोहानिसबर्ग टेस्ट में ऐसी गलती कि जिसका मलाल शायद उन्हें लंबे समय तक रहेगा. ऋषभ पंत ने साउथ अफ्रीकी फील्डर की स्लेजिंग से झल्लाकर अपना विकेट गंवाया जिसके बाद टीम इंडिया के विकेटकीपर की जबर्दस्त आलोचना हो रही है. ऋषभ पंत बेहद ही खराब शॉट खेलकर शून्य पर आउट हुए और वो महज 3 गेंद ही खेल पाए.
ऋषभ पंत के आउट होने से दिग्गज खिलाड़ी बेहद नाराज दिखे वो इसलिए क्योंकि उन्होंने बेहद ही खराब शॉट खेलकर अपना विकेट गंवाया. पंत ने रबाडा की गेंद पर आगे बढ़कर शॉट खेला और गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर विकेटकीपर के दस्तानों में चली गई. पंत ने ये शॉट साउथ अफ्रीकी खिलाड़ी रासी वैन डार दुसां की स्लेजिंग के बाद खेला. पंत पहली दो गेंदों पर भी बल्ला नहीं लगा पाए और अगली गेंद पर उन्होंने बेहद ही गलत शॉट खेला.
दुसां-पंत के बीच क्या हुआ?
अब सवाल ये है कि जोहानिसबर्ग में पंत और दुसां के बीच क्या बहस हुई? पंत जैसे ही क्रीज पर आए शॉर्ट लेग पर खड़े रासी वैन डार दुसां ने उन्हें कुछ कहना शुरू कर दिया. ये बातचीत पंत के कैच को लेकर थी. बता दें जोहानिसबर्ग टेस्ट के दूसरे दिन पंत ने दुसां का कैच लपका था जो कि पूरी तरह साफ नहीं था. हालांकि इसके बावजूद दुसां को आउट दे दिया गया. उसी घटना से नाराज दुसां ने पंत से कुछ कहा जिसके बाद भारतीय विकेटकीपर ने उन्हें चुप रहने की सलाह दी. दुसां चुप नहीं हुए और वो लगातार पंत को परेशान करते रहे. इसके बाद पंत ने झल्लाकर एक शॉट खेला जिसपर वो आउट हो गए.
पंत के इस तरह के शॉट को गौतम गंभीर ने बेवकूफी करार दिया. गंभीर ने कहा, 'बहादुरी और बेवकूफी में बहुत कम अंतर होता है और पंत ने बेवकूफी की है. आपको इस तरह के दबाव से निपटना आना चाहिए. पंत को टेस्ट क्रिकेट खेलते हुए काफी समय हो चुका है और साफ है कि वो इस टेस्ट में दबाव से नहीं निपट पाए. वरना पंत ऐसा शॉट नहीं खेलते.'
पंत का प्रदर्शन गिरा
बता दें गाबा टेस्ट में शानदार जीत दिलाने वाले पंत का विदेश में टेस्ट प्रदर्शन लगातार गिरता जा रहा है. पंत ने गाबा टेस्ट के बाद 13 पारियों में 19.23 की औसत से 250 रन बनाए हैं. साफ है पंत को अब अपने प्रदर्शन पर ध्यान देना होगा क्योंकि अगर पुजारा और रहाणे को टीम में अपनी जगह बचाने के लिए दिक्कत हो सकती है तो कुछ ऐसा ही उनके साथ भी हो सकता है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta