खेल

RCB नही ये टीम है IPL जीतने की दावेदार : कोच राजकुमार शर्मा

Bharti
7 Oct 2020 1:35 PM GMT
RCB नही ये टीम है IPL जीतने की दावेदार : कोच राजकुमार शर्मा
x
भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली के बचपन के कोच राजकुमार शर्मा ने एक बड़ा दावा यूएई में खेले जा रहे इंडियन प्रीमियर लीग यानी आइपीएल के 13वें सीजन को लेकर किया है।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली के बचपन के कोच राजकुमार शर्मा ने एक बड़ा दावा यूएई में खेले जा रहे इंडियन प्रीमियर लीग यानी आइपीएल के 13वें सीजन को लेकर किया है।भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली के बचपन के कोच राजकुमार शर्मा ने एक बड़ा दावा यूएई में खेले जा रहे इंडियन प्रीमियर लीग यानी आइपीएल के 13वें सीजन को लेकर किया है।राजकुमार शर्मा ने विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर(RCB) को नहीं, बल्कि दिल्ली कैपिटल को इंडियन प्रीमियर लीग (आइपीएल) के इस सीजन के जीतने की प्रबल दावेदार माना है। राजकुमार शर्मा ने कहा कि दिल्ली की फ्रेंचाइजी के पास अच्छे भारतीय खिलाड़ी हैं और कागिसो रबाडा टीम के लिए निर्णायक खिलाड़ी हैं।

उन्होंने न्यूज एजेंसी से बात करते हुए कहा, "दिल्ली एक मजबूत टीम है, उन्होंने वास्तव में अच्छे भारतीय खिलाड़ियों को चुना है। साथ ही रबाडा प्रभावशाली रहे हैं। वह किसी भी टीम के लिए खतरा हैं। मुझे लगता है कि दिल्ली कैपिटल्स इस साल का आइपीएल जीतने की प्रबल दावेदार है।" उधर, विराट कोहली टूर्नामेंट में अच्छी शुरुआत नहीं कर पाए। उन्होंने पहले तीन मैचों में सिर्फ 18 रन बनाए। हालांकि, उन्होंने चौथे मैच में नाबाद 72 रन बनाकर वापसी की। इस पर राजकुमार शर्मा ने कहा है कि उन्होंने शुरुआती मैचों में संघर्ष किया है।

राजकुमार शर्मा ने कहा कि विराट कोहली ने शुरुआती मुकाबलों में थोड़ा संघर्ष किया है, क्योंकि खिलाड़ी कोरोना वायरस महामारी के कारण लंबे अंतराल के बाद खेल रहे थे। उन्होंने कहा, "उनकी अंतिम दो पारियां अच्छी रही हैं। वह वापसी कर रहे हैं, क्योंकि कोरोना वायरस के कारण लगभग छह महीने का बड़ा ब्रेक था। वह इस समय शानदार फार्म में हैं।"

वहीं, जिस तरह से युवा भारतीय खिलाड़ियों ने टूर्नामेंट में प्रदर्शन किया है उससे भी राजकुमार शर्मा प्रभावित हैं और कहा कि भारतीय क्रिकेट का भविष्य सुरक्षित है। उन्होंने कहा, "यह बहुत अच्छा है कि भारतीय युवा अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं, चाहे वह शुभमन गिल हो या शिवम मावी। यह अच्छा है, क्योंकि भारतीय क्रिकेट का भविष्य सुरक्षित है। शर्मा ने आगे कहा, "अगर युवा अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो सीनियर्स अपने पैर की उंगलियों पर होंगे। और इससे हमारी बेंच स्ट्रेंथ भी सुधरेगी।"



Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it