खेल

निशिया बनी स्केटबोर्ड में गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली खिलाड़ी

Bharti sahu
26 July 2021 9:03 AM GMT
निशिया बनी स्केटबोर्ड में गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली खिलाड़ी
x
जापान की 13 साल की निशिया मोमोजी ओलंपिक के इतिहास में गोल्ड मेडल जीतने वाली सबसे कम उम्र की एथलीटों में से एक बन गई हैं.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | Tokyo Olympics 2020: जापान की 13 साल की निशिया मोमोजी ओलंपिक के इतिहास में गोल्ड मेडल जीतने वाली सबसे कम उम्र की एथलीटों में से एक बन गई हैं. निशिया ने स्ट्रीट स्केटबोर्डिंग कम्पटिशन में ये कारनामा किया है. ओलंपिक के इतिहास में सबसे कम उम्र में गोल्ड मेडल जीतने का रिकॉर्ड अमेरिका की गोताखोर मार्जरी गेस्ट्रिंग के नाम दर्ज हैं. उन्होंने 1936 के ओलंपिक खेलों में 13 साल और 268 दिन की उम्र में गोल्ड मेडल जीत इतिहास रच दिया था. निशिया स्केटबोर्डिंग कम्पटिशन में गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली खिलाड़ी भी बन गई हैं.

वहीं निशिया ने 13 साल और 330 दिन की उम्र में ओलंपिक गोल्ड मेडल जीतने की उपलब्धि हासिल की है. उन्होंने 15.26 के स्कोर के साथ ये खिताब जीता. ब्राजील की 13 वर्षीय रयासा लील ने 14.64 के स्कोर के साथ इस इवेंट का सिल्वर मेडल अपने नाम किया. वहीं जापान की ही 16 वर्षीय फ़ुना नाकायामा ने 14.49 अंकों के साथ कांस्य पदक पर कब्जा जमाया.
रयासा लील बन सकती थी गोल्ड जितने वाली सबसे कम उम्र की खिलाड़ी
ब्राजील की रयासा लील ने इस इवेंट का सिल्वर मेडल जीता हैं. रयासा की उम्र इस वक्त 13 साल 203 दिन हैं. अगर वो गोल्ड मेडल जीतने में सफल हो जाती तो मार्जरी गेस्ट्रिंग को पीछे छोड़ ओलंपिक के इतिहास में सबसे कम उम्र में गोल्ड मेडल जीतने वाली एथलीट बन जाती.

निशिया, लील और नाकायामा इन तीनों ही खिलाड़ियों का ये पहला ओलंपिक था और अपने पहले ही ओलंपिक में इन तीनों खिलाड़ियों ने देश के लिए पदक जीतकर इतिहास रच दिया.
निशिया स्केटबोर्ड में गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली खिलाड़ी
इस जीत के साथ ही जापान की निशिया मोमोजी के नाम एक और उपलब्धि जुड़ गई हैं. वो स्केटबोर्ड में गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली खिलाड़ी बन गई हैं. बता दें कि इस साल के टोक्यो ओलंपिक में पहली बार स्केटबोर्डिंग इवेंट को शामिल किया गया है.





Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta