खेल

विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के दूसरे एडिशन में इस बदलाव को चाहते हैं 1983 का वर्ल्ड कप जिताने वाले मोहिंदर अमरनाथ

Subhi
26 Jun 2021 5:13 AM GMT
विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के दूसरे एडिशन में इस बदलाव को चाहते हैं 1983 का वर्ल्ड कप जिताने वाले मोहिंदर अमरनाथ
x
पूर्व भारतीय ऑलराउंडर और 1983 में वर्ल्ड कप जिताने में अहम भूमिका निभाने वाले मोहिंदर अमरनाथ का मानना है |

पूर्व भारतीय ऑलराउंडर और 1983 में वर्ल्ड कप जिताने में अहम भूमिका निभाने वाले मोहिंदर अमरनाथ का मानना है कि इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) को अगले विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप (डब्ल्यूटीसी) एडिशन के लिए न्यूट्रल क्यूरेटर रखने चाहिए। अमरनाथ ने कहा कि जिस तरह से अहमदाबाद में इंग्लैंड के खिलाफ डे-नाइट टेस्ट मैच दो दिन में समाप्त हो गया था, उसे निष्पक्ष प्रतिस्पर्धा नहीं माना जाएगा। उन्होंने कहा, 'आपको अच्छी पिच पर खेलना चाहिए। जब आप अच्छी पिचों पर खेलते हैं तो फिर यह मायने नहीं रखता कि आप कहां खेल रहे हो। तब यह एक उचित प्रतिस्पर्धा होगी।'

अमरनाथ ने कहा कि, 'आईसीसी ने जिस तरह से न्यूट्रल अंपायरों का पैनल बनाया है उसी तरह से न्यूट्रल क्यूरेटर का पैनल भी तैयार करना चाहिए। इस टीम को आईसीसी दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए। उसे यह सुनिश्चित करना चाहिए कि मैच पांचवें दिन तक जाए।' यदि भारत और न्यूजीलैंड के बीच डब्ल्यूटीसी फाइनल ड्रॉ या टाई रह जाता तो दोनों टीमों को संयुक्त विजेता घोषित कर दिया जाता। अमरनाथ का मानना है कि यह एक अन्य पहलू है जिसे आईसीसी को अगले एडिशन में बदलना चाहिए
उन्होंने कहा कि, 'किसी भी खेल में फाइनल का मतलब होता कि उसमें संयुक्त विजेता नहीं हो सकता। फिर चाहे वह एक मैच हो या तीन मैच। उन्हें फाइनल पूरा करना होगा।' बता दें कि पहली बार आयोजित हुई वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल मैच का फैसला रिजर्व डे यानी छठे दिन जाकर हुआ। यहां न्यूजीलैंड की टीम ने केन विलियमसन की कप्तानी में साउथम्पटन के एजिस बाउल मैदान पर खेले गए मैच में भारत को आठ विकेट से हराकर खिताब पर कब्जा जमाया।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta