खेल

फाइनल्स में जगह बनाने से चूकने पर ट्रोल हुईं मनु भाकर

Mahima Marko
25 July 2021 9:54 AM GMT
फाइनल्स में जगह बनाने से चूकने पर ट्रोल हुईं मनु भाकर
x
भारतीय निशानेबाज मनु भाकर पिस्टल में तकनीकी खराबी आने के कारण टोक्यो ओलंपिक में महिलाओं की दस मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल्स में जगह बनाने से मामूली अंतर से चूक गईं।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | भारतीय निशानेबाज मनु भाकर पिस्टल में तकनीकी खराबी आने के कारण टोक्यो ओलंपिक में महिलाओं की दस मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल्स में जगह बनाने से मामूली अंतर से चूक गईं। दूसरी सीरीज में पिस्टल में तकनीकी खराबी के कारण मनु के पांच मिनट खराब हुए और मानसिक एकाग्रता वाले इस खेल में किसी की भी लय खराब करने के लिए उतना समय काफी था। मनु के अपने इवेंट में फाइनल में जगह न बनाने पर सोशल मीडिया पर ट्रोल किया गया। ऐसा होने पर दो ओलंपिक खेल चुकीं पिस्टल शूटर हीना सिद्धू ने उनका बचाव किया है।

उन्होंने कहा कि, 'जो लोग यह कहने में देर नहीं लगा रहे कि मनु दबाव का सामना नहीं कर सकीं। मैं इतना जानना चाहती हूं कि पिस्टल में खराबी के कारण उसका कितना समय खराब हुआ। उसने दबाव के आगे घुटने नहीं टेके बल्कि उसका सामना करके अच्छा प्रदर्शन किया।'

उन्होंने आगे ट्वीट करते हुए कहा कि, '34 मिनट से भी कम समय में 575 स्कोर करना बताता है कि वह मानसिक रूप से कितनी दृढ है। खिलाड़ियों का आंकड़ों के आधार पर आकलन करना बंद कीजिए। मनु और देसवाल दोनों ने शानदार प्रदर्शन किया और मिक्स टीम में वे अधिक मजबूती से उतरेंगी।' बता दें कि हीना के पति रौनक पंडित भारतीय पिस्टल टीम के कोच भी हैं।

मनु के पिता रामकिशन भाकर और भारतीय नेशनल राइफल संघ के अधिकारी ने भी कहा कि मनु की पिस्टल के इलेक्ट्रॉनिक ट्रिगर में खराबी आ गई थी। उसे ठीक कराने के बाद वह लौटीं लेकिन उसकी लय बिगड़ चुकी थी। पहली सीरीज में 98 के स्कोर के बाद उन्होंने 95, 94 और 95 का स्कोर किया और टॉप 10 से बाहर हो गईं। पांचवीं सीरीज में उसने वापसी की कोशिश की, लेकिन छठी और आखिरी सीरिज में एक 8 और तीन 9 के स्कोर के बाद वे टॉप आठ में जगह नहीं बना सकीं।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta