खेल

काउंटी एकादश के खिलाफ केएल राहुल ने ठोका शतक, जडेजा ने भी खेली दमदार पारी

Subhi
21 July 2021 4:35 AM GMT
काउंटी एकादश के खिलाफ केएल राहुल ने ठोका शतक, जडेजा ने भी खेली दमदार पारी
x
केएल राहुल ने शानदार शतक जड़ा, जिसकी बदौलत भारतीय टीम ने मंगलवार को यहां काउंटी एकादश के खिलाफ तीन दिवसीय प्रथम श्रेणी अभ्यास मैच के पहले दिन नौ विकेट पर 306 रन बनाए।

केएल राहुल ने शानदार शतक जड़ा, जिसकी बदौलत भारतीय टीम ने मंगलवार को यहां काउंटी एकादश (काउंटी सिलेक्ट इलेवन) के खिलाफ तीन दिवसीय प्रथम श्रेणी अभ्यास मैच के पहले दिन नौ विकेट पर 306 रन बनाए। केएल राहुल 150 गेंदों पर 11 चौकों व एक छक्के की मदद से 101 रन बनाकर रिटायर्ड आउट हुए। रवींद्र जडेजा ने भी 146 गेंदों पर पांच चौकों व एक छक्के की मदद से 75 रन बनाए।

भारतीय टीम के नियमित कप्तान विराट कोहली और उपकप्तान अजिंक्य रहाणे फिट नहीं थे, तो रोहित शर्मा को इस अभ्यास मैच में कप्तानी करने का मौका मिला। कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। मयंक अग्रवाल (28), चेतेश्वर पुजारा (21) व हनुमा विहारी (24) ने 20 से ज्यादा रन बनाए, लेकिन कोई भी बड़ी पारी नहीं खेल सका। इसके बाद राहुल व जडेजा ने भारतीय पारी को संभाला।

कोहली व रहाणे को विश्राम

इस मैच के लिए नियमित कप्तान विराट कोहली, उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे व ऑफ स्पिनर आर अश्विन को आराम दिया गया। बीसीसीआइ सचिव जय शाह ने मीडिया रिलीज में कहा, "विराट कोहली को सोमवार देर शाम पीठ में कुछ जकड़न महसूस हुई। उन्हें मेडिकल टीम ने मैच से आराम करने की सलाह दी। रहाणे के बायें पैर की मांसपेशियों के आसपास हल्की सूजन है।" वहीं, अश्विन काउंटी मैच खेलकर लौटे हैं। उनकी फॉर्म चिंता का विषय नहीं है।

विपक्षी टीम से खेले आवेश और सुंदर

चोट व क्वारंटाइन के कारण अपने खिलाड़ियों को गंवाने के बाद भारत के युवा खिलाड़ी आवेश खान व वॉशिंगटन सुंदर काउंटी एकादश टीम की ओर से अपने ही देश की टीम के खिलाफ खेलने उतरे। आवेश ने 9.5 ओवर गेंदबाजी भी की जिसके बाद उनके हाथ के अंगूठे में चोट लग गई और उनके मैच में आगे हिस्सा लेने की संभावना नहीं है। बीसीसीआइ की मेडिकल टीम उन पर निगरानी रख रही है।

उन्हें यह चोट हनुमा विहारी के शाट को रोकते समय लगी। अभ्यास मैचों में खिलाड़ियों का अपनी ही टीम के खिलाफ उतरना नई बात नहीं है। सचिन तेंदुलकर जब 14 साल के थे तो उन्होंने 1987 में ब्रेबोर्न स्टेडियम में भारत के खिलाफ मैच के दौरान इमरान खान की अगुआई वाली पाकिस्तान की टीम के लिए क्षेत्ररक्षण किया था। तेंदुलकर उस मैच में बॉल ब्वॉय थे और अब्दुल कादिर की जगह क्षेत्ररक्षण करने उतरे थे।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta