खेल

घर से बाहर लगातार 11वीं बार फ्लॉप केन विलियमसन, इंग्लैंड पहुंची टीम इंडिया के लिए मौका

Chandravati Verma
3 Jun 2021 10:26 AM GMT
घर से बाहर लगातार 11वीं बार फ्लॉप केन विलियमसन, इंग्लैंड पहुंची टीम इंडिया के लिए मौका
x
टीम इंडिया इंग्लैंड पहुंच चुकी है. साउथैम्प्टन में उसे 18 जून से न्यूजीलैंड के खिलाफ WTC Final खेलना है

टीम इंडिया इंग्लैंड पहुंच चुकी है. साउथैम्प्टन में उसे 18 जून से न्यूजीलैंड के खिलाफ WTC Final खेलना है. वही न्यूजीलैंड जो इस वक्त मेजबान इंग्लैंड के साथ 2 टेस्ट की सीरीज खेलने में मशगूल है, जिसने लॉर्ड्स की लड़ाई में शुरुआत तो ठीक ठाक की है. पर उसके कप्तान केन विलियमसन (Kane Williamson) की कलई खुल गई है. इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में कीवी कप्तान की बल्लेबाजी में एक बड़ा झोल दिखा है, जो WTC Final से पहले इंग्लैंड पहुंच चुकी भारतीय टीम के लिए अच्छी खबर है.

कहते हैं सेनापति मजबूत हो तो सिपाही भी लड़ते हैं. लेकिन, इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स टेस्ट की पहली पारी में कीवी कप्तान केन विलियमसन की बल्लेबाजी पूरी तरह बैकफुट पर दिखी. जेम्स एंडरसन ने उनका डिफेंस भेदते हुए उनकी गिल्लियां बिखेर दी. ये 7वीं बार था जब विलियमसन, एंडरसन का शिकार बने थे. लेकिन, यहां सवाल एंडरसन के शिकार बनने का नहीं है. आउट हर बल्लेबाज होता है. लेकिन, कीवी कप्तान अपने घर से बाहर एक, दो नहीं पूरे 11वीं बार सस्ते में निपटे थे
विदेशी जमीन पर 11 वीं बार फ्लॉप !
इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स टेस्ट की पहली पारी में केन विलियमसन 33 गेंदों पर सिर्फ 13 रन बनाकर आउट हुए. ये 11वीं बार था, जब उन्होंने विदेशी मैदान पर इस तरह से घूटने टेके. टेस्ट क्रिकेट की इन 11 पारियों में विलियमसन ने सिर्फ 154 रन ही बनाए हैं. इस दौरान 2 बार तो वो खाता भी नहीं खोल सके. उम्मीद थी कि WTC Final से पहले वो इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज की शुरुआत बड़ी पारी से करेंगे. घर से बाहर पिछली 10 टेस्ट पारियों से चला आ खराब फॉर्म का सिलसिला थमेगा. लेकिन, 11वीं पारी में भी कुछ नहीं बदला.
इंग्लैंड में केन विलियमसन का सबसे खराब है रिकॉर्ड
वैसे भी इंग्लैंड की जमीन विलियमसन को कुछ ज्यादा रास नहीं आती. घर में यानी न्यूजीलैंड में जहां उनका बैटिंग औसत 61.19 का है. वहीं इंग्लैंड की धरती पर ये घटकर सिर्फ 30. 87 का रह जाता है. टेस्ट क्रिकेट के नंबर वन बल्लेबाज ने लॉर्ड्स टेस्ट से पहले खेली 8 पारियों में इंग्लैंड में केवल 247 रन बनाए थे. इंग्लैंड के मुकाबले बाकी सभी देशों में उनका बैटिंग औसत 45 से ऊपर का ही रहा है. साफ है, इंग्लैंड में विलियमसन की बैटिंग में मौजूद बड़े लूपहोल्स पर टीम इंडिया की भी नजरें होगी


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta