खेल

ओलंपिक में कुछ कर गुजरने के लक्ष्य से भारतीय दल पहुंचे जापान

Bharti sahu
18 July 2021 12:11 PM GMT
ओलंपिक में कुछ कर गुजरने के लक्ष्य से भारतीय दल पहुंचे जापान
x
ओलंपिक में कुछ कर गुजरने के लक्ष्य के साथ भारतीय दल का पहला जत्था 23 जुलाई से शुरू होने वाले खेलों के लिये रविवार की सुबह यहां पहुंचा

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | ओलंपिक में कुछ कर गुजरने के लक्ष्य के साथ भारतीय दल का पहला जत्था 23 जुलाई से शुरू होने वाले खेलों के लिये रविवार की सुबह यहां पहुंचा तथा हवाई अड्डे पर कोविड-19 से जुड़े कड़े दिशानिर्देशों का पालन करने के बाद उन्होंने खेल गांव में प्रवेश किया। भारत के पहले जत्थे में 88 सदस्य शामिल हैं। उन्हें कल रात नई दिल्ली में भव्य विदाई दी गयी। इस बीच निशानेबाज और मुक्केबाज क्रोएशिया और इटली से जापान की राजधानी पहुंचे।

भारत से यात्रा करने वाले दल में तीरंदाजी, बैडमिंटन, टेबल टेनिस, हॉकी में पुरुष और महिला वर्ग की टीमें, जूडो, जिम्नास्टिक और तैराकी के खिलाड़ी, सहयोगी स्टाफ और अधिकारी शामिल हैं। वे नयी दिल्ली से विशेष विमान से तोक्यो पहुंचे। इस दल के एक सदस्य ने पीटीआई-भाषा से कहा, ''तोक्यो हवाई अड्डे पर छह घंटे तक इंतजार करना पड़ा। हमारा कोविड-19 के लिये परीक्षण हुआ लेकिन ऐसी उम्मीद थी। सभी जांच सही रहने के बाद ही हम खेल गांव पहुंचे हैं। ''
भारतीय दल ऐसे दिन खेल गांव में पहुंचा जबकि वहां रहने वाले दो खिलाड़ियों और ओलंपिक के लिये नामित होटल में ठहरे एक खिलाड़ी का कोविड-19 के लिये किया गया परीक्षण पॉजिटिव आया है। भारतीय खिलाड़ियों ने अच्छी तरह से मॉस्क लगा रखा था। यहां तक कि खेल गांव के लिये बसों में सवार होने से पहले आवश्यक कागजी कार्रवाई करते समय कुछ खिलाड़ियों को चेहरे पर शील्ड पहने हुए भी देखा गया। भारत के पहले जत्थे में 54 खिलाड़ियों के अलावा सहयोगी स्टाफ और भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) के प्रतिनिधि भी शामिल हैं।
भारतीय खिलाड़ियों का हवाई अड्डे पर कुरोबे शहर के प्रतिनिधियों ने स्वागत किया। उनके हाथों में बैनर थे जिन पर लिखा था, ''कुरोबे भारतीय खिलाड़ियों का समर्थन करता है। #चीयर्स4इंडिया।'' इससे पहले शनिवार की रात को खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने नयी दिल्ली में इंदिरा गांधी हवाई अड्डे पर हर्ष ध्वनि, तालियों की गड़गड़ाहट और शुभकामना संदेशों के साथ भारतीय दल को औपचारिक विदाई दी। हवाई अड्डे पर अप्रत्याशित दृश्य देखने को मिला। ओलंपिक दल के लिये लाल कालीन बिछाया गया था। खिलाड़ियों की विदाई के लिये इतना उत्साह बना हुआ था कि भारत सरकार ने इन सदस्यों की कागजी औपचारिकताओं को पूरा करने के लिये विशेष व्यवस्था की थी।

ठाकुर के अलावा विदाई समारोह में खेल राज्यमंत्री निसिथ प्रमाणिक, भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) के महानिदेशक संदीप प्रधान, आईओए के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा और महासचिव राजीव मेहता ने भी हिस्सा लिया। भारत के कुछ खिलाड़ी विदेशों में अपने अभ्यास स्थलों से पहले ही तोक्यो पहुंच चुके थे। भारत की एकमात्र भारोत्तोलक मीराबाई चानू अमेरिका के सेंट लुई में अपने अभ्यास स्थल से शुक्रवार को तोक्यो पहुंची
मुक्केबाज और निशानेबाज इटली और क्रोएशिया में अपने अभ्यास स्थलों से यहां पहुंचे हैं। भारत का 228 सदस्यीय दल ओलंपिक में भाग लेगा जिसमें 119 खिलाड़ी शामिल है। भारत से सबसे पहले चार भारतीय नाविक नेत्रा कुमानन और विष्णु सरवनन (लेजर क्लास), केसी गणपति और वरुण ठक्कर (49ईआर क्लास) यूरोप में अपने अभ्यास स्थलों से तोक्यो पहुंचे थे। उन्होंने गुरुवार को अभ्यास भी शुरू कर दिया है। इसके अलावा रोइंग टीम भी तोक्यो पहुंच चुकी है।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta