खेल

भारतीय क्रिकेटर ऑस्ट्रेलिया के लिए होंगे रवाना

Bharti sahu
26 Oct 2020 11:32 AM GMT
भारतीय क्रिकेटर ऑस्ट्रेलिया के लिए होंगे रवाना
x
इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 13वें सीजन के फाइनल के कुछ ही घंटे बाद भारतीय क्रिकेटर ऑस्ट्रेलिया के लिए रवाना होंगे, जहां दोनों देशों के बीच तीनों फॉर्मेट की सीरीज होगी

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 13वें सीजन के फाइनल के कुछ ही घंटे बाद भारतीय क्रिकेटर ऑस्ट्रेलिया के लिए रवाना होंगे, जहां दोनों देशों के बीच तीनों फॉर्मेट की सीरीज होगी। इस दौरे पर सभी का ध्यान चार मैचों की टेस्ट सीरीज पर है, जो कि आइसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली तीनों फॉर्मेट की सीरीज के लिए भारतीय टीम का ऐलान होना बाकी है। इस बीच भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ियों में इस बात को लेकर बहस छिड़ गई है कि रोहित शर्मा और मयंक अग्रवाल के अलावा कौन से ओपनर को भारतीय टेस्ट टीम में जगह मिलनी चाहिए।

ईएसपीएन क्रिकइंफो के शो में बात करते हुए पूर्व क्रिकेटर संजय मांजरेकर और आकाश चोपड़ा आमने-सामने आए। दोनों ने ऑस्ट्रेलियाई दौरे के लिए चुने जाने वाली टीम के लिए अपनी राय रखी। मांजरेकर ने बताया कि वे रोहित और मंयक के अलावा बैकअप ओपनर के तौर पर पृथ्वी शॉ को देखना चाहते हैं। वहीं, आकाश चोपड़ा ने कहा कि वे चाहते हैं कि केएल राहुल को बैकअप टेस्ट ओपनर के तौर पर टीम में जगह मिलनी चाहिए। हालांकि, दोनों ही दिग्गजों ने तर्क के साथ अपनी राय रखी।

संजय मांजरेकर ने कहा है कि वे सिर्फ टेस्ट या मल्टी डेज क्रिकेट के प्रदर्शन के आधार पर पृथ्वी शॉ को टीम में देखना चाहते हैं, क्योंकि पिछले कुछ मैचों में उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया है। वहीं, आकाश चोपड़ा ने कहा कि वे केएल राहुल का समर्थन इसलिए भी करते हैं, क्योंकि वे पिछले करीब डेढ़-दो साल से लगातार फॉर्म में हैं। उन्होंने अगर आप पृथ्वी शॉ को देखना चाहते हैं तो संभावित रूप से शुभमन गिल को भी देखना चाहिए, क्योंकि वे लंबे समय से टीम के साथ ट्रेवल कर रहे हैं।

मांजरेकर ने बताया कि केएल राहुल ही नहीं, बल्कि किसी भी बल्लेबाज को आइपीएल की फॉर्म के आधार पर टेस्ट क्रिकेट के लिए नहीं चुना जाना चाहिए, क्योंकि दोनों फॉर्मेट अलग हैं। मांजरेकर ने कहा है कि केएल राहुल ने पिछली तमाम टेस्ट सीरीज में रन नहीं बनाए हैं। ऐसे में वे उनकी ओर नहीं देख रहे। हालांकि, बीसीसीआइ की सीनियर सलेक्शन कमेटी के लिए ये पहला मौका होगा, जब वे टेस्ट क्रिकेट के लिए टीम का चयन करेंगे, क्योंकि इससे पहले एमएसके प्रसाद टीम के मुख्य चयनकर्ता थे, जिनका कार्यकाल समाप्त हो गया है।



Next Story