खेल

एशियन चैंपियंस ट्रॉफी में भारत ने जीता कांस्य पदक

Bharti sahu
23 Dec 2021 10:23 AM GMT
एशियन चैंपियंस ट्रॉफी में भारत ने जीता कांस्य पदक
x
एशियन चैंपियंस ट्रॉफी में भारत ने पाकिस्तान को धूल चटाते हुए कांस्य पदक जीता

एशियन चैंपियंस ट्रॉफी में भारत ने पाकिस्तान को धूल चटाते हुए कांस्य पदक जीता। सेमीफाइनल में जापान के हाथों मिली हार के बाद भारत के पास पदक जीतने का यह आखिरी मौका था। ब्रॉन्ज मेडल मैच में टीम इंडिया ने चिर प्रतिद्वंदी पाकिस्तान को 4-3 से मात दे। यह पाकिस्तान पर भारत की एक हफ्ते में लगातार दूसरी जीत है। इससे पहले भारत ने राउंड रॉबिन में पाकिस्तान को हराया था।

भारत ने पहले मिनट में हरमनप्रीत सिंह के गोल की मदद से बढत बना ली। इसके बाद सुमित (45वां मिनट), वरूण कुमार (53वां मिनट) और आकाशदीप सिंह (57वां मिनट) ने गोल दागे।पाकिस्तान के लिये अफराज (10वां),अब्दुल राणा (33वां) और अहमद नदीम (57वां) ने गोल किये। भारत की इस टूर्नामेंट में पाकिस्तान पर यह दूसरी जीत थी।इससे पहले राउंड रॉबिन चरण में भारत ने पाकिस्तान को 3-1 से हराया था। फाइनल में दक्षिण कोरिया का सामना जापान से होगा।
भारत की शुरूआत अच्छी रही और भारतीयों ने पाकिस्तानी गोल पर लगातार हमले बोले। भारत को पहले ही क्वार्टर में चार पेनल्टी कॉर्नर मिले जिनमें से पहले मिनट में हरमनप्रीत ने गोल किया। पाकिस्तान ने धीरे धीरे वापसी की कोशिशें तेज की और दसवें मिनट में अफराज ने गोलकीपर कृशन बहादुर पाठक को चकमा देकर गोल कर दिया। हरमनप्रीत सर्कल के भीतर से गेंद को बाहर निकालने में नाकाम रहे थे। भारत को जल्दी ही पांचवां पेनल्टी कॉर्नर मिला लेकिन हरमनप्रीत गोल नहीं कर सके। पाकिस्तान को 14वें मिनट में मिला पहला पेनल्टी कॉर्नर पाठक ने बचाया। दूसरे क्वार्टर में पाकिस्तान ने भारत के कई हमलों को नाकाम किया।
भारत को 22वें मिनट में फिर पेनल्टी कॉर्नर मिला लेकिन पाकिस्तानी गोलकीपर अमजद अली ने हरमनप्रीत को कामयाबी नहीं मिलने दी। चार मिनट बाद उन्होंने आकाशदीप की रिवर्स हिट बचाई। भारत ने आक्रामक खेल दिखाते हुए सात पेनल्टी कॉर्नर और बनाये लेकिन अमजद अली ने काफी मुस्तैदी दिखाई। ब्रेक के बाद पाकिस्तान ने अब्दुल राणा के रिबाउंड पर किये गए गोल की मदद से बढत बना ली। पाकिस्तान 43वें मिनट में एक और गोल कर लेता लेकिन राणा का शॉट गोलपोस्ट से टकरा गया।
तीसरे क्वार्टर के तीन सेकंड के भीतर गुरसाहिबजीत सिंह ने गेंद सुमित को दी जिसने बराबरी का गोल दागा। चौथे और आखिरी क्वार्टर में दोनों टीमों ने काफी प्रयास किये। भारत के लिये तीसरा गोल पेनल्टी कॉर्नर पर वरूण ने किया। पाकिस्तान को जवाबी हमले में दो पेनल्टी कॉर्नर मिले लेकिन पहले रशर के तौर पर भारतीय कप्तान मनप्रीत सिंह ने उन्हें बचाया। आखिरी सीटी बजने से तीन मिनट पहले आकाशदीप ने ललित के पास पर रिवर्स हिट पर गोल दागा हालांकि पाकिस्तान के लिये नदीम ने तुरंत गोल करके अंतर कम कर दिया।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta