खेल

कैनबरा में हार्दिक पंड्या ने रविंद्र जडेजा के साथ बनाया ऐसा प्लान...जिसने दिलाई टीम इंडिया को जीत...देखे VIDEO

Subhi
3 Dec 2020 3:53 AM GMT
कैनबरा में हार्दिक पंड्या ने रविंद्र जडेजा के साथ बनाया ऐसा प्लान...जिसने दिलाई टीम इंडिया को जीत...देखे VIDEO
x
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कैनबरा में हुए आखिरी वनडे में भारत ने 13 रनों से जीत दर्ज कर सीरीज में क्लीन स्वीप से बचाया.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कैनबरा में हुए आखिरी वनडे में भारत ने 13 रनों से जीत दर्ज कर सीरीज में क्लीन स्वीप से बचाया. टीम की इस जीत में हार्दिक पंड्या और रविंद्र जडेजा का सबसे बड़ा योगदान रहा, जिन्होंने 150 रनों की बड़ी साझेदारी कर भारत को अच्छे स्कोर तक पहुंचाया. जडेजा ने जहां इस मैच में अर्धशतक लगाया, तो वहीं गेंद से और फील्डिंग में भी बड़ा योगदान दिया. मैच के बाद जडेजा ने इस बात का खुलासा किया कि हार्दिक के साथ पार्टनरशिप के दौरान उनकी रणनीति क्या था.

कैनबरा में पहले बैटिंग करते हुए भारतीय टीम ने 152 के स्कोर पर 5 विकेट गंवा दिए थे. कप्तान कोहली 63 रन बनाकर आउट हुए और फिर हार्दिक के साथ क्रीज पर जडेजा आए. टीम इंडिया के इन दोनों ऑलराउंडरों ने न सिर्फ पारी को संभाला बल्कि ऐसे स्कोर तक पहुंचाया, जो आखिर में जीत के लिए काफी रहा. दोनों के बीच 150 रनों की नाबाद साझेदारी हुई और भारत ने 302 रन बनाए.

आखिरी ओवर तक पार्टनरशिप करने की योजना थी

इस पारी में तेजी से 66 रन बनाने वाले जडेजा ने टीम इंडिया की जीत के बाद बताया कि उनकी और हार्दिक के बीच यही बात हो रही थी कि पार्टनरशिप को किसी भी तरह आखिरी ओवर तक ले जाना है. युजवेंद्र चहल से बात करते हुए जडेजा ने कहा,

"योजना बेहद साफ थी. मैं और हार्दिक बात कर रहे थे कि हमारे बाद कोई और बल्लेबाज नहीं है, इसलिए पार्टनरशिप बनाएंगे. विकेट भी नहीं गंवाना था और हम यही बोल रहे थे कि आखिर तक खेलना है. हम दोनों एक-दूसरे को समझा भी रहे थे कि क्या परिस्थिति है और कैसा खेलना है."

हवा के कारण गेंदबाजी की योजना में किया बदलाव

जडेजा ने सिर्फ बैटिंग से ही कमाल नहीं किया बल्कि गेंदबाजी में अभी अपना दम दिखाया और कसी हुई लाइन में गेंदबाजी कर एरॉन फिंच का बड़ा विकेट हासिल किया. अपनी गेंदबाजी के बारे में बताते हुए जडेजा ने कहा कि हवा के कारण स्टंप की लाइन में गेंदबाजी करना मुश्किल था, इसलिए उन्होंने दूसरी रणनीति अपनाई.

भारतीय ऑलराउंडर ने कहा, "बॉलिंग में मैं कोशिश कर रहा था कि स्टंप की लाइन पर रखूं, लेकिन जिस छोर से मैं बॉलिंग कर रहा था वहां से हवा काफी अंदर आ रही थी, इसलिए मैं पांचवें स्टंप की लाइन में गेंदबाजी कर रहा था, जिससे गेंद स्टंप की लाइन में आ रही थी. विकेट से भी थोड़ा टर्न मिल रहा था. सिडनी से बेहतर विकेट था."

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it