Top
खेल

आइसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप वर्ल्ड कप के जैसी है : इशांत शर्मा

Bharti
22 Feb 2021 12:13 PM GMT
आइसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप वर्ल्ड कप के जैसी है : इशांत शर्मा
x
भारत के तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने सोमवार को कहा कि विश्व टेस्ट चैंपियनशिप उनके लिए विश्व कप की तरह है

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | भारत के तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने सोमवार को कहा कि विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) उनके लिए विश्व कप की तरह है और वह चाहते हैं कि इस साल के अंत में होने वाले फाइनल मैच में उनकी टीम खेले। भारत और इंग्लैंड के बीच चार मैचों की सीरीज वर्तमान में 1-1 की बराबरी पर है और अब दोनों टीमें मोटारा क्रिकेट स्टेडियम में बुधवार से शुरू हो रहे पिंक बॉल टेस्ट मैच में खेलेंगी। इसी सीरीज से आइसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के लिए दूसरे फाइनलिस्ट का ऐलान होगा।

अपना 100वां टेस्ट मैच खेलने के लिए कमर कस चुके इशांत शर्मा ने हाल ही टेस्ट क्रिकेट में 300 विकेट चटकाए हैं। इस बारे में उन्होंने कहा है कि ये सिर्फ निजी उपलब्धियां हैं। इशांत ने वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "100 टेस्ट मैच खेलने के मील का पत्थर हासिल करने के लिए मुझे ऑस्ट्रेलिया पसंद था, लेकिन कुछ चीजें योजना के अनुसार नहीं होती हैं। मैं ऑस्ट्रेलिया नहीं जा सका, लेकिन जैसे ही आप कुछ चीजों पर चलते हैं, जीवन सरल हो सकता है। मैंने सीखा है कि आप अपने करियर में एक चीज के बारे में नहीं सोच सकते, आपका आगे बढ़ना महत्वपूर्ण है। कपिल देव के 131 टेस्ट मील का पत्थर बहुत दूर है, मैं सिर्फ आगामी टेस्ट पर ध्यान केंद्रित कर रहा हूं।"

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप को लेकर इशांत शर्मा ने कहा, "मैं सिर्फ इस सीरीज को जीतने और डब्ल्यूटीसी के फाइनल के लिए क्वालीफाइ करने पर केंद्रित हूं। मैं सिर्फ एक प्रारूप खेलता हूं, विश्व टेस्ट चैंपियनशिप मेरे लिए एक विश्व कप की तरह है, अगर हम फाइनल खेलते हैं और फिर हम जीत के लिए जाते हैं, तो यह भावना विश्व कप या चैंपियंस ट्रॉफी जीतने के समान होगी।" अपने डेब्यू मैच को याद करते हुए उन्होंने कहा, "जब मैंने डेब्यू किया था तो रवि सर(रवि शास्त्री) टीम के मैनेजर थे और अब कोच हैं। मैं पहले टेस्ट मैच के दौरान नर्वस था, लेकिन रवि शास्त्री ने मुझे हौसला दिया था।"

आइसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनाने के लिए भारत अभी थोड़ा दूर है। मंगलवार को चेन्नई में जीत ने भारत को पॉइंट्स टेबल पर 69.7 प्रतिशत अंकों के साथ दूसरे स्थान पर पहुंचा दिया, लेकिन वे एक और मैच नहीं हार सकते, क्योंकि उन्हें 2-1 या 3-1 से जीतने की जरूरत है, ताकि वह आइसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के पहले संस्करण के फाइनल में पहुंच सकें। इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए भी फाइनल में पहुंचने के दरवाजे खुले हैं।


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it