खेल

मैंने भारत के लिए 500 मैच खेला, कोहली हो या अय्यर किसी को भी समझा सकता हूं : सौरव गांगुली

Bharti sahu
28 Sep 2020 2:44 PM GMT
मैंने भारत के लिए 500 मैच खेला, कोहली हो या अय्यर किसी को भी समझा सकता हूं : सौरव गांगुली
x
भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और वर्तमान बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने उन आलोचकों को जवाब दिया है जिन्होंने उनके दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर को सलाह देने पर सवाल किया था।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और वर्तमान बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने उन आलोचकों को जवाब दिया है जिन्होंने उनके दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर को सलाह देने पर सवाल किया था। गांगुली ने साफ किया कि मेरे पास 500 के तरीब इंटरनेशनल मैच खेलने का अनुभव है और यह मुझे इस बात का हक देता है कि किसी भी खिलाड़ी चाहे अय्यर हो या फिर कोहली जाकर बात कर सकता हूं।

इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन के मैच के बाद इस बात को लेकर विवाद बनाया गया था कि बीसीसीआई के अध्यक्ष पद पर रहते हुए सौरव गांगुली दिल्ली कैपिटल्स की टीम के कप्तान को सलाह कैसे दे सकते हैं। पहले मैच के बाद दिल्ली के कप्तान ने कहा था कि मुख्य कोच रिकी पोंटिंग और गांगुली की वजह से ही वह इतने अच्छे कप्तान और खिलाड़ी बन पाए हैं। इसके बाद लोगों ने लाभ के पद (Conflict of Interest) का मामला उठाया था।

गांगुली ने सवाल उठाने वालों पर पलटवार करते हुए कहा, "मैंने पिछले साल अय्यर की मदद की थी। मैं भले ही बोर्ड का अध्यक्ष हूं लेकिन यह बात कभी मत भूलिए की मैंने भारत के लिए 500 के करीब मैच खेले हैं और इसी वजह से मैं युवा खिलाड़ी से बात कर सकता हूं उनकी मदद करने का हक रखता हूं। फिर चाहे वो श्रेयस अय्यर हों या विराट कोहली। अगर वह चाहते हैं तो मैं जरूर उनकी मदद करूंगा।"

वैसे अय्यर ने गांगुली के बारे में बात करने के बाद विवाद को खत्म करने के लिए सामने आए थे। उन्होंने ट्वीट करते हुए साफ किया था कि, एक युवा कप्तान होने के नाते मैं रिकी और दादा का शुक्रिया करता हूं कि वो मेरे एक खिलाड़ी और कप्तान के इस सफर में मेरे साथ रहे पिछले सीजन। मेरा बयान सिर्फ इस बात पर जोर देता हुआ था कि उन दोनों ने मेरे बेहतर कप्तान बनकर उभरने में काफी मदद की है।

Next Story