खेल

हिमाचल प्रदेश ने विजय हजारे ट्रॉफी के फाइनल में पहली बार खिताब किया अपने नाम

Bharti sahu
26 Dec 2021 1:37 PM GMT
हिमाचल प्रदेश ने विजय हजारे ट्रॉफी के फाइनल में पहली बार खिताब किया अपने नाम
x
हिमाचल प्रदेश ने विजय हजारे ट्रॉफी के फाइनल में रविवार को तमिलनाडु को वीजेडी प्रणाली से 11 रन से हराकर पहली बार खिताब अपने नाम किया।

हिमाचल प्रदेश ने विजय हजारे ट्रॉफी के फाइनल में रविवार को तमिलनाडु को वीजेडी प्रणाली से 11 रन से हराकर पहली बार खिताब अपने नाम किया। खराब रोशनी से प्रभावित फाइनल मैच में हिमाचल प्रदेश के कप्तान ऋषि धवन के ऑलराउंड प्रदर्शन और सलामी बल्लेबाज शुभम अरोड़ा की नाबाद शतकीय पारी का बड़ा योगदान रहा। शुभम अरोड़ा को उनकी शानदार नाबाद सेंचुरी के लिए मैन ऑफ द मैच दिया गया।

तमिलनाडु ने अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक की 116 रन की पारी के दम पर 314 रन (49.4 ओवर में ऑल आउट) बनाए। खराब रोशनी के कारण मैच को रोके जाते समय हिमाचल ने 47.3 ओवर में चार विकेट के 299 रन बना लिए थे। वीजेडी प्रणाली से इस समय तमिलनाडु का स्कोर 289 रन था। विकेटकीपर बल्लेबाज अरोड़ा ने 131 गेंद की नाबाद पारी के दौरान 13 चौके और एक छक्का जड़ा। जबकि शानदार लय में चल रहे धवन ने 23 गेंद की नाबाद पारी में 42 रन बनाए। उन्होंने इस दौरान पांच चौके और एक छक्का लगाया। धवन ने गेंद से भी कमाल दिखाते हुए 10 ओवर में 62 रन देकर तीन विकेट लिए।
हिमाचल प्रदेश ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया जिसे उसके गेंदबाजों ने शुरुआती 14.3 ओवर में 40 रन पर चार विकेट लेकर सही साबित किया। इसके बाद कार्तिक और बाबा इंद्रजीत ने 202 रन की शानदार साझेदारी कर तमिलनाडु की मैच में शानदार वापसी कराई। कार्तिक ने 103 गेंद की पारी में आठ चौके और सात छक्के जड़े तो वही इंद्रजीत ने 71 गेंद की पारी में आठ चौके और एक छक्का की मदद से 80 रन बनाए।
आखिरी ओवरों में शाहरुख खान ने एक बार फिर विस्फोटक पारी खेली। उन्होंने 21 गेंद में तीन छक्के और इतने ही चौको की मदद से 42 रन बनाए तो वही कप्तान विजय शंकर ने 16 गेंद में 22 रन बनाए। हिमाचल प्रदेश के लिए पंकज जायसवाल ने 9.4 ओवर में 59 रन देकर चार विकेट लिए। लक्ष्य का पीछा करते हुए अरोड़ा और प्रशांत चोपड़ा (21) ने पहले विकेट के लिए 60 रन की साझेदारी कर हिमाचल प्रदेश को अच्छी शुरुआत दिलाई।
टीम ने हालांकि इसके बाद दिग्विजय रांगी (शून्य) और निखिल गंगटा (18) के विकेट जल्दी-जल्दी गवां दिए। अरोड़ा का साथ इसके बाद अमित कुमार ने शानदार तरीके से निभाया। दोनों की चौथे विकेट के लिए 148 रन की साझेदारी में अमित ने 74 रन का योगदान दिया। उन्होंने 79 गेंद की पारी में छह चौके लगाए। इस साझेदारी को बाबा अपराजित (45 रन पर एक विकेट) ने तोड़कर तमिलनाडु की उम्मीदे जगा दी लेकिन धवन ने एक बार फिर ताबड़तोड़ पारी खेल टीम को जीत सुनिश्चित की।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta