खेल

धोनी, रोहित और कोहली के इस गुण को अपनाना चाहते हैं हार्दिक पांड्या

Bharti sahu
1 Feb 2022 4:15 PM GMT
धोनी, रोहित और कोहली के इस गुण को अपनाना चाहते हैं हार्दिक पांड्या
x
पिछले कुछ वर्षों से भारतीय आलराउंडर हार्दिक पांड्या की गेंदबाजी फिटनेस की स्थिति को लेकर चयनकर्ताओं और टीम मैनेजमेंट के साथ उनकी बात नहीं होने की अटकलें थी

पिछले कुछ वर्षों से भारतीय आलराउंडर हार्दिक पांड्या की गेंदबाजी फिटनेस की स्थिति को लेकर चयनकर्ताओं और टीम मैनेजमेंट के साथ उनकी बात नहीं होने की अटकलें थी, लेकिन हार्दिक का कहना है कि चयनकर्ताओं और टीम मैनजमेंट को पता है कि वह कहां खड़े हैं।

हार्दिक पीठ में परेशानी के कारण पिछले दो वर्षो से ज्यादा समय से गेंदबाजी नहीं कर पा रहे हैं। हालांकि, हार्दिक आने वाले आइपीएल के सत्र में नई फ्रेंचाइजी अहमदाबाद की कप्तानी करते नजर आएंगे। हार्दिक ने कहा, गेंदबाजी फिटनेस की स्थिति पर उन्हें पता है कि मैं कहां खड़ा हूं। इस बारे में सभी को बताया गया है। हार्दिक सिर्फ बल्लेबाज से ज्यादा बल्लेबाज और गेंदबाज के साथ करे तो बेहतर है।
उन्होंने स्वीकार किया कि आलराउंडर के रूप में प्रदर्शन नहीं कर पाना उनके लिए चुनौतीपूर्ण है। हार्दिक ने कहा, गेंदबाजी नहीं करना चुनौतीपूर्ण है। मैं हमेशा ही खेल के तीनों विभाग में योगदान देने की कोशिश करता हूं। लेकिन जब मैंने सिर्फ बल्लेबाजी करने का फैसला किया तो मैं बस मैदान पर समय बिताना चाहता था। हां, यह चुनौतीपूर्ण रहा। हार्दिक ने कहा, मेरा सिद्धांत यह है कि अगर कोई कप्तान के रूप में अच्छा कर रहा है, तो मैं उसे परेशान नहीं करूंगा लेकिन जब वह सही नहीं जा रहा होगा तो एक व्यक्ति के रूप में मैं उपलब्ध रहूंगा, यदि उसे मेरी जरूरत है। यही वह आदर्श है जिसका मैं पालन करना चाहूंगा। जिन्हें मेरी जरूरत है, उनके लिए मैं हमेशा मौजूद रहूंगा।
उन्होंने कहा, मैं विराट कोहली की आक्रामकता और जुनून चुनूंगा, उनकी ऊर्जा जबरदस्त है। माही भाई (धौनी) से संयम, शांति, हर स्थिति में समान रहना और यह देखने की कोशिश करना कि क्या नई चीजें जोड़ सकते हैं। रोहित शर्मा से, मैं स्वतंत्रता चुनूंगा क्योंकि वह खिलाड़ी को यह तय करने देते हें कि वह क्या करना चाहता है। ये तीन गुण अगर मैं अपना सकूं, तो यह एक बहुत अच्छा संयोजन होगा।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta