खेल

गावस्कर ने शास्त्री के कोचिंग कार्यकाल की सबसे बड़ी उपलब्धि के बारे में किया जिक्र, कही ये बात

Bharti sahu
27 Dec 2021 9:27 AM GMT
गावस्कर ने शास्त्री के कोचिंग कार्यकाल की सबसे बड़ी उपलब्धि के बारे में किया जिक्र,  कही ये बात
x
भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री के कोचिंग कार्यकाल की सबसे बड़ी उपलब्धि के बारे में जिक्र किया है।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री के कोचिंग कार्यकाल की सबसे बड़ी उपलब्धि के बारे में जिक्र किया है। शास्त्री ने टी20 विश्व कप 2021 के बाद भारत की कोचिंग पद से इस्तीफा दे दिया था। उनकी कोचिंग कार्यकाल में भारत कोई भी आईसीसी खिताब नहीं जीत पाया। गावस्कर ने शास्त्री के कोचिंग की सबसे बड़ी हाईलाइट को उजागर करते हुए भारत के 2020-21 में ऑस्ट्रेलिया दौरे को याद किया, जब टीम एडिलेड में खेले गए पिंक बॉल टेस्ट मैच में केवल 36 रन पर ढेर हो गई थी। लेकिन उसके बाद टीम इंडिया ने शानदार वापसी की और सीरीज पर अपना कब्जा जमाया।

गावस्कर ने स्टार स्पोर्ट्स पर बातचीत के दौरान कहा कि शास्त्री जिस तरह से खिलाड़ियों को प्रेरित किया, वो काफी शानदार था। उन्होंने कहा कि जब टीम जब केवल 36 रन पर ऑल आउट हो गई थी तो शास्त्री ने खिलाड़ियों को मोटिवेट किया था। उन्होंने कहा, 36 रन के स्कोर पर ऑल आउट होने के बाद भारतीय टीम ने जिस तरह से वापसी की, उसकी चर्चा जरूर होनी चाहिए। जब ऐसा होता है तो टीम अपने ऊपर से विश्वास खो देती है। टीम काफी निराश हो जाती है और वो हार मान लेती है। यहीं पर, शास्त्री ने अपनी अहम भूमिका निभाई क्योंकि मैंने जो पढ़ा है उसके हिसाब से उन्होंने कहा था कि 'इन 36 रनों को एक बैज की तरह पहनो।'
पूर्व कप्तान ने आगे कहा, 'इसके बाद अजिंक्य रहाणे ने शानदार कप्तानी की और इसमें टीम के सभी खिलाड़ियों ने अपना अपना योगदान दिया। हमारे कई प्रमुख खिलाड़ी उपलब्ध नहीं थे और ऐसी टीम लग रही थी लेकिन जो भी खिलाड़ी उस टीम में था, उन सबने जबरदस्त प्रदर्शन किया। इससे पता चलता है कि पूर्व कोच का युवा खिलाड़ियों के ऊपर कितना बड़ा प्रभाव था।'


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta