खेल

धोनी की बल्लेबाजी को लेकर टीम इंडिया के पूर्व कोच संजय बांगड़ ने कही ये बात

Bharti
20 Oct 2020 10:32 AM GMT
धोनी की बल्लेबाजी को लेकर टीम इंडिया के पूर्व कोच संजय बांगड़ ने कही ये बात
x
MS Dhoni एक महान क्रिकेटर हैं और इस पर कोई सवाल नहीं उठ सकता, लेकिन आइपीएल 2020 में ना तो वो बल्लेबाजी में कमाल कर पा रहे हैं और ना ही उनकी कप्तानी ज्यादा अच्छी हो रही है।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | MS Dhoni एक महान क्रिकेटर हैं और इस पर कोई सवाल नहीं उठ सकता, लेकिन आइपीएल 2020 में ना तो वो बल्लेबाजी में कमाल कर पा रहे हैं और ना ही उनकी कप्तानी ज्यादा अच्छी हो रही है। हालात ये हैं कि उनकी टीम प्लेऑफ में पहुंचने के लिए संघर्ष कर रही है और जैसे हालात हैं उससे ये भी हो सकता है कि ये टीम प्लेऑफ से बाहर हो जाए। अब धौनी के प्रदर्शन और उनकी बल्लेबाजी को लेकर टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ ने अपनी बातें सामने रखी हैं।

एम एस ने इस सीजन में अब तक खेले 10 मैचों में सिर्फ 164 रन बनाए हैं और उनका बेस्ट स्कोर अब तक का नाबाद 47 रन रहा है। सोमवार को वो राजस्थान के खिलाफ 28 गेंदों पर 28 रन बनाकर आउट हो गए थे। अब धौनी की 13वें सीजन में बल्लेबाजी को लेकर संजय बांगड़ ने कहा कि, इस सीजन में उनका प्री डिलिवरी मूवमेंट रुक गया है और इस वजह से वो गेंद को देखने में देरी कर रहे हैं। जब आपकी उम्र 38-39 साल की हो जाती है तो आपको तेज गेंदबाजों को ज्यादा वक्त देना पड़ता है। अगर वो अपनी इस कमी को पूरी कर लेंगे तो गेंद बल्ले के बीचों बीच आने लगेगी।

वहीं संजय बांगड़ ने एक टीवी शो के दौरान कहा कि, एम एस ग्रेट फिनिशर हैं और वो जब थाई पैड पहनते हैं तो एक या फिर दो रन ज्यादा लेते हैं। इसके बाद वो चौका लगाते हैं सच तो ये है कि वो एक कप्तान से ज्यादा महान लीडर हैं। वो खिलाड़ियों की मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं और अपने विचार उन पर नहीं थोपते हैं। वो चाहते हैं कि युवा खिलाड़ी अपनी परेशानी के लिए रास्ता खुद निकालें।

संजय ने कहा कि मुझे पता चला है कि इतने बड़े हिट लगाने वाले धौनी ने किस तरह से अपनी स्वाभाविक योग्यता पर बैन लगा लिया है। वो अपनी थाई पैड पर 1...2...4...6 लिखते हैं और वो पढ़ते हैं कि उन्हें यही प्रोसेस फॉलो करना है। इसी वजह से सिंगर और डबल्स इस ग्रेट फिनिशर के लिए जरूरी हो गया है। धौनी के सिंगर और डबल्स की उन्हें ग्रेट फिनिशर बनाताय है और माइकल बेवन को ही देखिए। इन दोनों में यही समानता है और इसी वजह से वो मैच जीतते हैं।

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it