खेल

ENG vs NZ: स्टेडियम में इतने दर्शकों को मिली आने की इजाजत, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी के साथ ही दर्शक भी लौटेंगे

Admin4
26 May 2021 3:29 PM GMT
ENG vs NZ: स्टेडियम में इतने दर्शकों को मिली आने की इजाजत, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी के साथ ही दर्शक भी लौटेंगे
x
इंग्लैंड में पिछले दिनों फुटबॉल मैचों के दौरान भी सीमित संख्या में दर्शकों को स्टेडियम जाने की इजाजत दी गई थी और अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी के साथ ही दर्शक भी लौटेंगे.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। युनाइटेड किंगडम में कोरोनावायरस के हालातों में आए सुधार और व्यापक टीकाकरण के कारण अब खेलप्रमियों के अच्छे दिन लौटने लगे हैं. हाल ही में फुटबॉल मैचों के लिए दर्शकों को स्टेडियम में जाने की इजाजत मिली और अब क्रिकेट के दीवानों को भी ये आजादी मिलने वाली है. इंग्लैंड और न्यूजीलैंड (England vs New Zealand) के बीच अगले महीने से शुरू हो रही टेस्ट सीरीज के लिए दर्शकों को स्टेडियम में आने की इजाजत होगी. सीरीज के पहले मैच के लिए स्टेडियम की क्षमता के 25 फीसदी दर्शकों को आने दिया जाएगा, जबकि बर्मिंघम (Birmingham) में होने वाले दूसरे टेस्ट के रोजाना करीब 70 फीसदी दर्शकों को मैदान पर मैच देखने का मौका मिलेगा. ब्रिटेन की सरकार ने बड़ी संख्या में लोगों के जुटने की स्थिति में कोविड-19 संक्रमण के फैलने का विश्लेषण करने के लिए इसे चुना है.

यूके में पिछले साल कोरोनावायरस के हालात में सुधार के बाद दर्शकों को सीमित संख्या में स्टेडियमों में जाने की छूट मिली थी. हालांकि, बाद में कोरोनावायरस की दूसरी लहर के प्रकोप के बाद ये छूट खत्म कर दी गई थी और देश में खेलों का आयोजन बिना दर्शकों के हो रहा था. हाल ही में प्रीमियर लीग समेत कुछ अन्य टूर्नामेंटों में दर्शकों की वापसी हुई थी और अब देश की सरकार व्यापक स्तर पर लोगों को आजादी देने की अपनी योजना बना रही है, जिसमें प्रयोग के तहत इंग्लैंड-न्यूजीलैंड के बीच दूसरा टेस्ट भी शामिल है.

प्रतिदिन 18 हजार दर्शकों को इजाजत
बर्मिंघम के एजबेस्ट क्रिकेट ग्राउंड (Edgbaston Cricket Ground) के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर बुधवार को इस बारे में जानकारी दी गई. इसके मुताबिक, 18 हजार दर्शकों को इजाजत दी जाएगी. ये स्टेडियम की कुल क्षमता का 70 फीसदी है. इसके मुताबिक, "एजबस्टन टेस्ट मैच को आकलन प्रतियोगिता के रूप में चुना गया है. हम प्रतिदिन 18 हजार दर्शकों की मेजबानी करेंगे. टिकट धारकों को ईमेल के जरिए आगे के कदमों की जानकारी दी जाएगी."

यूके सरकार ने इसके लिए एसओपी भी जारी किए हैं, जिसके मुताबिक, स्टेडियम में प्रवेश के लिए सभी टिकटधारकों को एनएचएस रेपिड लेटरल फ्लो परीक्षण के जरिए कोविड-19 नतीजा दिखाना होगा जो 24 घंटे पहले किया गया हो. सभी टिकटधारकों की आयु 16 साल या इससे अधिक होनी चाहिए.
लॉर्ड्स से टेस्ट सीरीज की शुरुआत
दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच 2 जून से लंदन के ऐतिहासिक लॉर्ड्स स्टेडियम में खेला जाएगा. इसके लिए मैदान की क्षमता के 25 फीसदी दर्शकों को प्रतिदिन आने की इजाजत होगी. वहीं बर्मिंघम में दूसरा टेस्ट मैच 10 जून से शुरू होगा, जिसमें 18 हजार दर्शक प्रतिदिन जा सकेंगे. इसके बाद साउथैंप्टन में 18 जून से भारत और न्यूजीलैंड के बीच आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेला जाएगा और इसमें भी दर्शकों को इजाजत मिलेगी.युनाइटेड किंगडम में कोरोनावायरस के हालातों में आए सुधार और व्यापक टीकाकरण के कारण अब खेलप्रमियों के अच्छे दिन लौटने लगे हैं. हाल ही में फुटबॉल मैचों के लिए दर्शकों को स्टेडियम में जाने की इजाजत मिली और अब क्रिकेट के दीवानों को भी ये आजादी मिलने वाली है. इंग्लैंड और न्यूजीलैंड (England vs New Zealand) के बीच अगले महीने से शुरू हो रही टेस्ट सीरीज के लिए दर्शकों को स्टेडियम में आने की इजाजत होगी. सीरीज के पहले मैच के लिए स्टेडियम की क्षमता के 25 फीसदी दर्शकों को आने दिया जाएगा, जबकि बर्मिंघम (Birmingham) में होने वाले दूसरे टेस्ट के रोजाना करीब 70 फीसदी दर्शकों को मैदान पर मैच देखने का मौका मिलेगा. ब्रिटेन की सरकार ने बड़ी संख्या में लोगों के जुटने की स्थिति में कोविड-19 संक्रमण के फैलने का विश्लेषण करने के लिए इसे चुना है.

यूके में पिछले साल कोरोनावायरस के हालात में सुधार के बाद दर्शकों को सीमित संख्या में स्टेडियमों में जाने की छूट मिली थी. हालांकि, बाद में कोरोनावायरस की दूसरी लहर के प्रकोप के बाद ये छूट खत्म कर दी गई थी और देश में खेलों का आयोजन बिना दर्शकों के हो रहा था. हाल ही में प्रीमियर लीग समेत कुछ अन्य टूर्नामेंटों में दर्शकों की वापसी हुई थी और अब देश की सरकार व्यापक स्तर पर लोगों को आजादी देने की अपनी योजना बना रही है, जिसमें प्रयोग के तहत इंग्लैंड-न्यूजीलैंड के बीच दूसरा टेस्ट भी शामिल है.

प्रतिदिन 18 हजार दर्शकों को इजाजत
बर्मिंघम के एजबेस्ट क्रिकेट ग्राउंड (Edgbaston Cricket Ground) के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर बुधवार को इस बारे में जानकारी दी गई. इसके मुताबिक, 18 हजार दर्शकों को इजाजत दी जाएगी. ये स्टेडियम की कुल क्षमता का 70 फीसदी है. इसके मुताबिक, "एजबस्टन टेस्ट मैच को आकलन प्रतियोगिता के रूप में चुना गया है. हम प्रतिदिन 18 हजार दर्शकों की मेजबानी करेंगे. टिकट धारकों को ईमेल के जरिए आगे के कदमों की जानकारी दी जाएगी."

यूके सरकार ने इसके लिए एसओपी भी जारी किए हैं, जिसके मुताबिक, स्टेडियम में प्रवेश के लिए सभी टिकटधारकों को एनएचएस रेपिड लेटरल फ्लो परीक्षण के जरिए कोविड-19 नतीजा दिखाना होगा जो 24 घंटे पहले किया गया हो. सभी टिकटधारकों की आयु 16 साल या इससे अधिक होनी चाहिए.
लॉर्ड्स से टेस्ट सीरीज की शुरुआत
दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच 2 जून से लंदन के ऐतिहासिक लॉर्ड्स स्टेडियम में खेला जाएगा. इसके लिए मैदान की क्षमता के 25 फीसदी दर्शकों को प्रतिदिन आने की इजाजत होगी. वहीं बर्मिंघम में दूसरा टेस्ट मैच 10 जून से शुरू होगा, जिसमें 18 हजार दर्शक प्रतिदिन जा सकेंगे. इसके बाद साउथैंप्टन में 18 जून से भारत और न्यूजीलैंड के बीच आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेला जाएगा और इसमें भी दर्शकों को इजाजत मिलेगी.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta