खेल

सीनियर खिलाड़ी का खुलासा- भारतीय महिला क्रिकेट टीम इंग्लैंड में इस खास मकसद को दे रही अंजाम

Gulabi
29 Jun 2021 4:00 PM GMT
सीनियर खिलाड़ी का खुलासा- भारतीय महिला क्रिकेट टीम इंग्लैंड में इस खास मकसद को दे रही अंजाम
x
सीनियर खिलाड़ी का खुलासा

न्यूजीलैंड (New Zealand) में अगले साल महिला क्रिकेट विश्व कप (Women Cricket World Cup) का आयोजन किया जाना है जिसके लिए हर टीम ने तैयारी करना शुरू कर दिया है. भारत भी इससे अछूता नहीं हैं. मिताली राज (Mithali Raj) की कप्तानी वाली टीम इस समय इंग्लैंड के दौरे पर है जहां वो वनडे सीरीज खेल रही है. टीम की अनुभवी तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी (Jhulan Goswami) ने कहा है कि टीम सीरीज के आने वाले मैचों में अलग-अलग विकल्पों को आजमाएगी ताकि यह पता चल सके कि विश्व कप में कौन सा संयोजन टीम के लिए कारगर साबित हो सकता है.


भारतीय बल्लेबाजों ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले वनडे मैच में 180 से अधिक डॉट गेंद खेली. इसमें कप्तान मिताली राज, पूनम राउत और दीप्ति शर्मा जैसे अनुभवी मध्यक्रम के खिलाड़ियों को रन चुराने के लिए जूझना पड़ा. इंग्लैंड की महिला टीम ने दो विकेट के नुकसान पर 202 रन के लक्ष्य को आसानी से हासिल कर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली.


हरमनप्रीत कौर पर सवाल किया नजरअंदाज
टीम की उपकप्तान हरमनप्रीत कौर के बल्लेबाजी क्रम पर पूछे गए सवाल का झूलन से साफ जवाब नहीं दिया लेकिन कहा कि अगले साल न्यूजीलैंड में होने वाले विश्व कप से पहले कई विकल्प आजमाए जाएंगे. झूलन ने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे महिला वनडे की पूर्व संध्या पर कहा, ''हम अपने संयोजन को ठीक करने की कोशिश कर रहे हैं. हम कुछ विकल्प तलाशने की कोशिश कर रहे हैं. अब हमारे लिए कौन से विकल्प सही रहेंगे, हम उसी की तलाश कर रहे हैं. जो कुछ भी होगा (विकल्पों को हम अंतिम रूप देने के मामले में), प्रबंधन विश्व कप से पहले फैसला करेगा. विश्व कप से पहले हम कुछ चीजों को व्यवस्थित करने की कोशिश कर रहे हैं. उम्मीद है कि आने वाले मैचों में, आने वाली सीरीज में हम उन सभी चीजों को सुलझा लेंगे.''

शेफाली वर्मा पर नहीं बनाना चाहिए दबाव
झूलन का मानना है कि युवा शेफाली वर्मा से अधिक उम्मीद कर दबाव नहीं बनाना चाहिए. वह इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि मध्य-क्रम लय हासिल कर प्रभावी प्रदर्शन करेगा. उन्होंने कहा, ''शेफाली का वह पहला ही मैच था. उसने अभी पदार्पण किया है. हम उससे इतनी उम्मीदें कर रहे है क्योंकि उसने अब तक काफी प्रभावित किया है. हमें शीर्ष तीन बल्लेबाजों में से किसी एक से बड़ी पारी की जरूरत है. हरमन (कौर) को भी एक अच्छी पारी की जरूरत है. मध्यक्रम से एक अच्छी पारी की जरूत है.''

गेंदबाजी में सुधार की जरूरत
झूलन ने कहा कि गेंदबाजी इकाई को भी सुधार करने की जरूरत है क्योंकि टैमी ब्यूमोंट और नेट स्काइवर ने लगभग 100 के स्ट्राइक रेट से बिना किसी परेशानी के रन जुटाए. उन्होंने कहा, ''ईमानदारी से कहूं तो हमें एक गेंदबाजी इकाई के रूप में मजबूती से वापसी करने की जरूरत है. हमने बहुत सी चीजों पर चर्चा की है, उम्मीद है कि हम इसे सुलझा लेंगे और मजबूती से वापसी करेंगे.''


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta