खेल

धोनी का बड़ा बयान

jantaserishta.com
2 May 2022 2:59 AM GMT
धोनी का बड़ा बयान
x

पुणे: इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में एक बार महेंद्र सिंह धोनी ड्राइविंग सीट पर बैठ गए हैं, यानी उन्होंने चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) टीम की कमान संभाल ली है. इस सीजन में बतौर कप्तान उन्होंने पहला मैच रविवार (1 मई) को सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के खिलाफ खेला और 13 रनों से शानदार जीत भी दर्ज की.

इस मैच से पहले ही रवींद्र जडेजा ने कप्तानी से इस्तीफा दे दिया था. ऐसे में धोनी को वापस कमान संभालनी पड़ गई. बीच सीजन में इतना बड़ा फैसला क्यों लिया गया, इस पर मैच के बाद धोनी ने खुद ही खुलासा कर दिया है. उन्होंने कहा कि कप्तानी का असर जडेजा के प्रदर्शन पर पड़ रहा था. टीम के लिए बैटर, फील्डर और बॉलर वाला जडेजा ही ज्यादा जरूरी है. दबाव वाला नहीं, इसलिए ये फैसला लिया गया.
कप्तानी का असर जडेजा के प्रदर्शन पर भी पड़ा: धोनी
मैच के बाद धोनी ने कहा, 'मुझे लगता है कि जडेजा को पिछले सीजन में ही पता था कि उसे इस बार कप्तानी करनी है. इस सीजन के पहले दो मैच में मैंने उसकी मदद की, लेकिन उसके बाद मैंने सारी जिम्मेदारी उसी को सौंप दी थी. फैसले लेने के लिए मैंने उसे स्वतंत्र कर दिया था, ताकि सीजन खत्म होने के बाद जडेजा के पीछे से सारा काम कोई और ही कर रहा था. एक बार जब आप कप्तान बन जाते हैं, तो लोगों को आपसे बहुत उम्मीदें होने लगती हैं. इसका असर खिलाड़ी के प्रदर्शन पर भी पड़ता है. दिमाग चकरा जाता है. मुझे लगता है कि जडेजा के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ है.'
'अपने पुराने रंग में नहीं दिख रहे थे जडेजा'
धोनी ने आगे कहा, मुझे लगता है कि कप्तानी की जिम्मेदारी का असर उसके परफॉर्मेंस पर भी पड़ा है. मतलब है कि वह बैटिंग और बॉलिंग अपना पुराना रंग नहीं दिखा पा रहा था. यही चीज उसकी फील्डिंग में भी हुई. हमें शानदार डीप-मिडविकेट फील्डर चाहिए, जो कप्तानी के भार के कारण दब रहा था. हम एक शानदार गेंदबाज और बैटर नहीं खोना चाहते. टीम के लिए शानदार ऑलराउंडर जडेजा ज्यादा जरूरी है, जो बैटिंग-बॉलिंग और फील्डिंग में धमाल मचा सके. अब हम कोशिश कर रहे हैं कि सबकुछ जल्द पटरी पर लौट आए.'
चेन्नई ने हैदराबाद को 13 रनों से हराया
हैदराबाद टीम के खिलाफ मैच में धोनी की सीएसके टीम ने टॉस हारकर पहले बैटिंग करते हुए 2 विकेट पर 202 रन बनाए थे. ऋतुराज गायकवाड़ ने 57 बॉल पर 99 और डेवॉन कॉन्वे ने 55 बॉल पर 85 रनों की शानदार पारी खेली. जवाब में हैदराबाद टीम 6 विकेट पर 189 रन ही बना सकी और 13 रनों के अंतर से मैच गंवा दिया. टीम के लिए निकोलस पूरन ने 33 बॉल पर 64 और कप्तान केन विलियमसन ने 37 बॉल पर 47 रन बनाए.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta