खेल

सीएम हेमंत सोरेन ने की ऐलान, तीरंदाज दीपिका कुमारी को 50 लाख रुपये का पुरस्कार

Kunti Dhruw
3 July 2021 3:12 PM GMT
सीएम हेमंत सोरेन ने की ऐलान, तीरंदाज दीपिका कुमारी को 50 लाख रुपये का पुरस्कार
x
झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पिछले महीने पेरिस में तीरंदाजी विश्व कप के तीसरे चरण में तीन स्वर्ण पदक जीतने वाली राज्य की स्टार तीरंदाज दीपिका कुमारी को 50 लाख रुपये का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की.

रांची: झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पिछले महीने पेरिस में तीरंदाजी विश्व कप के तीसरे चरण में तीन स्वर्ण पदक जीतने वाली राज्य की स्टार तीरंदाज दीपिका कुमारी को 50 लाख रुपये का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की.

मुख्यमंत्री ने 23 जुलाई से आठ अगस्त तक होने वाले टॉक्यो ओलंपिक खेलों में स्वर्ण जीतने वाले झारखंड के खिलाड़ियों को दो करोड़ रुपये जबकि रजत पदक जीतने पर एक करोड़ रुपये और कांस्य पदक जीतने पर 75 लाख रुपये नकद पुरस्कार देने की भी घोषणा की.
तीरंदाज अंकिता भक्त को 20 लाख रूपये का पुुरस्कार देने की घोषणा
पेरिस में दीपिका के साथ स्वर्ण पदक जीतने वाली महिला टीम की तीरंदाज अंकिता भक्त और कोमोलिका बारी को भी उन्होंने 20-20 लाख रूपये जबकि कोच पूर्णिमा माहतो को 12 लाख रुपये का पुरस्कार देने की घोषणा की. उन्होंने इसके साथ ही ओलंपिक के लिए भारतीय हॉकी टीम में चुनी गई निक्की प्रधान और सलीमा टेटे के लिए पांच-पांच लाख रुपये की पुरस्कार की घोषणा की.
मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी विज्ञप्ति में कहा गया, ''मुख्यमंत्री ने हमारे चैंपियनों के लिए नकद पुरस्कारों की घोषणा की. जिसमें दीपिका को 50 लाख रुपये, अंकिता और कोमोलिका को 20-20 लाख रुपये, सलीमा और निक्की को पांच पांच लाख रुपये तथा कोच (तीरंदाजी) पूर्णिमा महतो को 12 लाख रुपये नकद दिये जाएगें.''
स्वर्ण पदक के लिए दो करोड़ रुपये का पुरस्कार
जारी विज्ञप्ति में ये भी कहा गया, ''मुख्यमंत्री ने ओलंपिक पदक जीतने वाले राज्य के खिलाड़ियों के लिए भी नकद पुरस्कारों की घोषणा की जिसमें स्वर्ण पदक के लिए दो करोड़ रुपये, रजत पदक के लिए एक करोड़ रुपये और कांस्य पदक जीतने वाले खिलाड़ी को 75 लाख रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा.''
मुख्यमंत्री ने इस मौके पर खिलाड़ियों और द्रोणाचार्य पुरस्कार विजेता पूर्णिमा महतो से ऑनलाइन बातचीत भी की. स्टार भारतीय तीरंदाज दीपिका कुमारी ने पिछले महीने तीरंदाजी विश्व कप के तीसरे चरण में स्वर्ण पदक की हैट्रिक के बाद वैश्विक रैंकिंग में नंबर एक स्थान हासिल किया था.रांची की 27 साल की इस खिलाड़ी ने 2012 के बाद पहली बार शीर्ष रैंकिंग हासिल की. उन्होंने महिला व्यक्तिगत, टीम और मिश्रित जोड़ी तीन रिकर्व स्पर्धाओं में स्वर्ण पदक हासिल किये थे.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta