खेल

इन दो खिलाड़ियों को इंग्लैंड नहीं भेजेगी बीसीसीआइ, श्रीलंका में ही खेलेंगे क्रिकेट

Subhi
8 July 2021 5:07 AM GMT
इन दो खिलाड़ियों को इंग्लैंड नहीं भेजेगी बीसीसीआइ, श्रीलंका में ही खेलेंगे क्रिकेट
x
भारतीय क्रिकेट टीम मैनेजमेंट, जो इस समय इंग्लैंड के दौरे पर है, उसने बीसीसीआइ से शुभमन गिल के रिप्लेसमेंट की मांग की थी।

भारतीय क्रिकेट टीम मैनेजमेंट, जो इस समय इंग्लैंड के दौरे पर है, उसने बीसीसीआइ से शुभमन गिल के रिप्लेसमेंट की मांग की थी। हालांकि, बीसीसीआइ फिलहाल किसी भी खिलाड़ी को इंग्लैंड नहीं भेज रही। शुभमन गिल शिन स्ट्रेस फ्रैक्चर के कारण कम से कम तीन महीने के लिए टीम से बाहर हो गए हैं। उनके स्थान पर किस खिलाड़ी को रोहित शर्मा के साथ ओपनिंग करने का मौका मिलेगा, ये देखने वाली बात होगी।

रिपोर्ट्स में सामने आ रहा था कि टीम मैनेजमेंट चाहता है कि श्रीलंका दौरे पर सीमित ओवरों की सीरीज खेलने गए ओपनर पृथ्वी शॉ और देवदत्त पडीक्कल को इंग्लैंड भेजा जाए, लेकिन बीसीसीआइ किसी भी खिलाड़ी को इंग्लैंड नहीं भेज रही है। बीसीसीआइ के एक अधिकारी ने कहा है कि पृथ्वी शॉ और देवदत्त पडीक्कल श्रीलंका में शिखर धवन की कप्तानी में सीमित ओवरों की सीरीज खेलेंगे, जिसकी शुरुआत अगले सप्ताह से हो रही है।

बीसीसीआइ के सूत्रों ने कहा, "पृथ्वी श्रीलंका में ही रहेंगे और 26 जुलाई तक सीमित ओवरों के मैचों में खेलेंगे। उन्हें चुना गया है और उन्हें वह जिम्मेदारी भानी चाहिए। श्रीलंका सीरीज समाप्त होने के बाद संभावनाओं को तलाशा जाएगा, लेकिन अभी ऐसा कुछ नहीं है।" टीम प्रबंधन इसलिए दो सलामी बल्लेबाजों को चाहता है, क्योंकि वे अभिमन्यु ईश्वरन की तकनीक से प्रभावित नहीं हैं। रिपोर्टो के अनुसार वह टीम के थ्रोडाउन विशेषज्ञ राघवेंद्र का सामना करने में भी खुद को सहज नहीं पाते हैं।

इंग्लैंड दौरे पर पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलने के लिए गई भारतीय टीम के पास शुभमन गिल के टीम से बाहर होने के बाद रोहित शर्मा के अलावा एकमात्र विकल्प ओपनर के लिए बचता है और वो हैं मयंक अग्रवाल। हालांकि, टीम के साथ केएल राहुल भी हैं, लेकिन वे ओपनिंग करने से कतरा रहे हैं। इसके अलावा अभिमन्यू ईश्वरन भी टीम के साथ हैं, लेकिन उनको ओपनर के तौर पर शायद ही मौका मिले, क्योंकि मैनेजमेंट ईश्वरन को विदेशी सरजमीं पर मौका देने से बचेगा।

हालांकि, रिद्धिमान साहा भी फर्स्ट क्लास क्रिकेट में ओपनिंग कर चुके हैं और वे ओपनर के तौर पर एक विकल्प हो सकते हैं, लेकिन फील्डिंग स्तर के नजरिए से देखा जाए तो दो-दो विकेटकीपर टीम के साथ होंगे। रिषभ पंत अपनी बल्लेबाजी क्षमता के कारण इस समय विकेटकीपर के तौर पर पहली पसंद बने हुए हैं। ऐसे में टीम मैनेजमेंट के पास ओपनर के तौर पर सीमित खिलाड़ी हैं, जिनका उपयोग उनको पांच मैचों की सीरीज में करना है।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta