Top
खेल

अनास्तासिया और क्रेजकिकोवा ने फ्रेंच ओपन महिला सिंगल्स के फाइनल में किया प्रवेश

Bharti
11 Jun 2021 8:59 AM GMT
अनास्तासिया और क्रेजकिकोवा ने फ्रेंच ओपन महिला सिंगल्स के फाइनल में किया प्रवेश
x
फ्रेंच ओपन महिला सिंगल्स का फाइनल मुकाबला तय हो गया है। ये खिताबी मुकाबला विश्व की 31वें नंबर की महिला खिलाड़ी रूस की अनास्तासिया पावलिउचेंकोवा और दुनिया की 85वीं नंबर की खिलाड़ी चेक गणराज्य की बारबोरा क्रेजकिकोवा बीच खेला जायगा

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | फ्रेंच ओपन महिला सिंगल्स का फाइनल मुकाबला तय हो गया है। ये खिताबी मुकाबला विश्व की 31वें नंबर की महिला खिलाड़ी रूस की अनास्तासिया पावलिउचेंकोवा और दुनिया की 85वीं नंबर की खिलाड़ी चेक गणराज्य की बारबोरा क्रेजकिकोवा बीच खेला जायगा। सेमीफाइनल में अनास्तासिया ने स्लोवेनिया की तमारा जिदांसेक को सीधे सेटों में 7-5, 6-3 से शिकस्त दी। अनास्तासिया ने ये मकुाबला 1 घंटे 34 मिनट में अपने ना किया।

वहीं दूसरे सेमीफाइनल में बारबोरा क्रेजकिकोवा और मारिया साकारी के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिली। दोनों महिला खिलाड़ियों के बीच ये मैराथन मुकाबला 3 घंटे 18 मिनट तक चला। पहला सेट बारबोरा ने 7-5 से अपने नाम किया। वहीं साकारी ने 6-4 से दूसरा सेट जीतकर वापसी की। लेकिन तीसरे सेट में वह बारबोरा से पार नहीं पा सकीं। तीसरा और अंतिम सेट बारबोरा ने 9-7 के अंतर से जीता। इस तरह चेक गणराज्य की बारबोरा ने अनास्तासिया को 7-5, 4-6, 9-7 से हराते हुए फाइनल में जगह बनाई।

बारबोरा क्रेजकिकोवा ने रोलां गैरो में अब तक शानदार प्रदर्शन किया है। वह पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम के फाइनल में पहुंची हैं। वहीं दूसरी तरफ अनास्तासिया पावलिउचेंकोवा 50 से ज्यादा बड़े टूर्नामेंट खेल चुकी हैं। उन्होंने साल 2007 मे विंबलडन में वाइल्डकार्ड के जरिए प्रवेश कर ग्रैंड स्लैम में डेब्यू किया था।
अनास्तासिया रूस की पहली महिला खिलाड़ी हैं जो साल 2015 के बाद किसी ग्रैंड स्लैम के फाइनल में पहुंची हैं। इससे पहले 2015 में मारिया शारापोवा ने ऑस्ट्रेलियन ओपन में जगह बनाई थी। तब खिताबी मुकाबले में शारापोवा को सेरेना के हाथ हार का सामना करना पड़ा।
अनास्तासिया अगर फ्रेंच ओपन का खिताब जीतती हैं तो 2018 के बाद ये पहली बार होगा जब वह फाइनल जीतेंगी। साल 2018 में उन्होंने स्ट्रासबोर्ग टूर्नामेंट जीता था। कुल मिलाकर अनास्तासिया 21 बार किसी ग्रैंड स्लैम के फाइनल में पहुंची हैं। वह अपने टेनिस करियर में अब तक 12 खिताब जीत चुकी हैं।


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it