खेल

सुरेश रैना के 'मैं भी ब्राह्मण' बयान के बाद 'राजपूत ब्वॉय' हुआ ट्रेंड, फैन्स ने किया ट्रोल, अनाप-शनाप आए कमेंट्स

jantaserishta.com
23 July 2021 4:34 AM GMT
सुरेश रैना के मैं भी ब्राह्मण बयान के बाद राजपूत ब्वॉय हुआ ट्रेंड, फैन्स ने किया ट्रोल, अनाप-शनाप आए कमेंट्स
x

नई दिल्ली. पूर्व भारतीय बल्लेबाज सुरेश रैना (Suresh Raina) का 'मैं भी ब्राह्मण हूं'(Main Bhi Brahmin) वाले बयान पर अभी विवाद थमा भी नहीं था कि टीम इंडिया के ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) अपने एक ट्वीट को लेकर ट्रोल होने लगे. जडेजा इस वक्त इंग्लैंड दौरे पर हैं और उन्होंने वहां से एक ट्वीट शेयर किया. इसमें उन्होंने लिखा कि राजपूत बॉय फोरएवर. यानी हमेशा के लिए राजपूत. जय हिंद!. जडेजा का यह ट्वीट लोगों को पंसद नहीं आया और ट्विटर यूजर्स के निशाने पर आ गए. लोग उन्हें जातिवाद को बढ़ावा न देने की नसीहत देने लगे.

जडेजा के ट्वीट पर एक ट्विटर यूजर ने लिखा कि सर आप लाखों लोगों के लिए प्रेरणा हैं. आप से हमें ऐसी उम्मीद नहीं थी. आपका रंग, रूप और धर्म मायने नहीं रखता. हम आपको हमेशा से प्यार करते रहे हैं. एक अन्य यूजर ने लिखा कि देश जातिवाद के चक्कर में बर्बाद हो रहा है. जड्डू से ऐसी पोस्ट की उम्मीद नहीं थी. ऊंचे मुकाम पर पहुंचने के बाद भी वो जातिवाद को बढ़ावा दे रहे हैं. शर्मनाक!.
एक और यूजर ने जडेजा के कमेंट में लिखा कि आदमी जन्म से महान नहीं बन जाता. आप जो बने हैं, उस पर गर्व करें न कि उन लेबल पर जो आप पर एक तरह से थोपे गए हैं.
रैना के एक कमेंट से पूरा विवाद शुरू हुआ
इस विवाद की शुरुआत रैना के एक कमेंट के बाद शुरू हुई है, जिसमें उन्होंने खुद को ब्राह्मण बताया था. उनका ऐसा कहना लोगों को नागवार गुजरा और सोशल मीडिया पर रैना को यूजर्स ट्रोल करने लगे. हालांकि, बाद में कुछ लोग उनके समर्थन में भी उतर गए और सोशल मीडिया पर मैं भी ब्राह्मण ट्रेंड होने लगा. दरअसल, रैना को तमिलनाडु प्रीमियर लीग के पांचवें सीजन के शुरुआती मैच में कमेंट्री के लिए आमंत्रित किया गया था. इस दौरान एक सवाल के जवाब में रैना ने खुद को ब्राह्मण बताया था, जिसपर बवाल मच गया.
रैना का खुद को ब्राह्मण बताना लोगों को पसंद नहीं आया
तमिलनाडु प्रीमियर लीग के मैच के दौरान कमेंटेटर ने रैना से पूछा था कि उन्होंने कैसे दक्षिण भारतीय संस्कृति को इतनी आसानी से अपनाया है. इसके जवाब में सुरेश रैना ने कहा था कि मुझे लगता है, मैं भी ब्राह्मण हूं. मैं 2004 से चेन्नई में खेल रहा हूं. मुझे यहां कि संस्कृति से प्यार है. मैं अपने साथियों से भी प्यार करता हूं. मैं अनिरुद्ध श्रीकांत के साथ खेल चुका हूं. सुब्रमण्यम बद्रीनाथ और एल बालाजी भी हैं. मुझे चेन्नई की संस्कृति पसंद है. मैं भाग्यशाली हूं कि मैं सीएसके का हिस्सा हूं. रैना आईपीएल के पहले सीजन यानी 2008 से ही चेन्नई सुपर किंग्स की तरफ से खेल रहे हैं.
रैना के समर्थन में भी लोग कूदे
इसके बाद कई ट्विटर यूजर्स ने रैना को ट्रोल किया था. एक यूजर ने लिखा था कि सुरेश रैना को आपको खुद पर शर्म आनी चाहिए. ऐसा लगता है कि आपने कभी चेन्नई की वास्तविक संस्कृति का अनुभव नहीं किया है, हालांकि आप चेन्नई टीम के लिए कई सालों से खेल रहे हैं. एक अन्य यूजर ने कहा कि सुरेश रैना को ऐसे शब्द का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए था. हालांकि, कई लोगों ने रैना के समर्थन में भी पोस्ट किए.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta