खेल

4 प्लेयर बने भारत की हार की वजह, टीम इंडिया का ख्वाब हुआ चकनाचूर

Tulsi Rao
14 Jan 2022 6:35 PM GMT
4 प्लेयर बने भारत की हार की वजह, टीम इंडिया का ख्वाब हुआ चकनाचूर
x
टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में सबसे बेहतरीन कामयाबियों में से एक करार दिया. उन्होंने 4 ऐसे प्लेयर का नाम लिया है जिन्होंने इस सीरीज में बड़ा अंतर पैदा कर दिया

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। केपटाउन: दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के हेड कोच मार्क बाउचर (Mark Boucher) ने शुक्रवार को वर्ल्ड रैंकिंग में पहले नंबर पर काबिज भारत के खिलाफ पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए 2-1 की जीत को अपने देश की टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में सबसे बेहतरीन कामयाबियों में से एक करार दिया. उन्होंने 4 ऐसे प्लेयर का नाम लिया है जिन्होंने इस सीरीज में बड़ा अंतर पैदा कर दिया.

SA ने सीरीज में की जबरदस्त वापसी
सेंचुरियन (Centurion) में बॉक्सिंग डे (Boxing Day) में खेले गए शुरुआती टेस्ट में हारने के बाद डीन एल्गर (Dean Elgar) की अगुवाई वाली टीम ने वांडरर्स (Wanderers) और न्यूलैंड्स (Newlands) में लगातार दो मैच जीत कर जबरदस्त जज्बा दिखाया.
गलत साबित हुई भारत की जीत की भविष्याणी
मार्क बाउचर (Mark Boucher) ने मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'इसे इस तरह से भी देखा जाए कि हमने तीनों मैच में टॉस गंवा दिया था. कुछ मीडिया सहित कई लोगों ने सीरीज के पहले टेस्ट के पहले दिन के बाद हमारी हार की भविष्याणी की थी.'
'ये हमारी टॉप पांच जीत में से एक'
मार्क बाउचर (Mark Boucher) ने कहा, 'पहले टेस्ट मैच को बुरी तरह से हारने के बाद वापसी करते हुए दूसरे और तीसरे टेस्ट मैच को जीतना बेहद ही शानदार रहा. ये हमारी टॉप पांच जीत में से एक होना चाहिए. सीरीज से पहले हमारी जो स्थिति थी और मैदान के बाहर की बातों के बावजूद ऐसा अच्छा नतीजा हासिल करना बेहतरीन है.'
'मुश्किल से मिली है जीत'
इस जीत को मनोबल बढ़ाने वाला करार देते हुए मार्क बाउचर (Mark Boucher) ने कहा, 'जिस तरह से पूरी टेस्ट सीरीज खेली गई थी वो कठिन संघर्ष था. कुछ अच्छा क्रिकेट हुआ. ये दक्षिण अफ्रीका में खेली गई बेस्ट टेस्ट सीरीड में से एक होनी चाहिए.'
कम तजुर्बे के बावजूद कामयाब रहे कप्तान एल्गर
इस सीरीज से पहले दक्षिण अफ्रीका ने डीन एल्गर की कप्तान में सिर्फ 3 मैच खेले थे और सेंचुरियन के मैदान पर टीम 6 महीने के लंबे अंतराल के बाद टेस्ट मैच के लिए उतरी थी. मार्क बाउचर (Mark Boucher) ने कहा 'इस जीत से मनोबल बहुत बढ़ेगा. इतने कम समय में इन खिलाड़ियों ने जिस तरह का जज्बा दिखाया वह बहुत ही खास है.'
मुश्किल टारगेट का हासिल किया
पिछले दोनों टेस्ट में डीन एल्गर की लीडरशिप में अनुभवहीन टीम ने उछाल भरी परिस्थितियों में 200 से ज्यादा के मुश्किल लक्ष्य को आसानी से हासिल किया. एल्गर ने जोहान्सबर्ग में टीम को रास्ता दिखाया, तो वही केपटाउन में कीगन पीटरसन ने 82 रन बनाकर टीम को जीत दिलाई.
ये 4 प्लेयर बने भारत की हार की वजह
मार्क बाउचर ने उन 4 प्लेयर्स का नाम लिया जिन्होंने टीम इंडिया की नाक में दम कर दिया. बाउचर ने कहा, 'इससे मैं हैरान नहीं हूं क्योंकि आपकी टीम में डीन एल्गर (Dean Elgar) जैसा खिलाड़ी है. वो खुद जज्बा दिखाते हुए टीम का नेतृत्व करते हैं. आपके पास उप-कप्तान के रूप में टेम्बा बावुमा (Temba Bavuma) भी हैं. वो जद्दोजहद करने वाले खिलाड़ी हैं इसलिए आपके पास नेतृत्व करने वाले दो खिलाड़ी हैं जिसे लोग फॉलो कर सकते है.' बाउचर ने कीगन पीटरसन (Keegan Petersen) और बाएं हाथ के फास्ट बॉलिंग ऑलराउंडर मार्को जेनसन (Marco Jansen) के योगदान की तारीफ करते हुए सीरीज जीतने में उनके रोल पर जोर डाला


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it