विज्ञान

बैंकॉक में फुटपाथ पर जड़े गए जीवाश्म, सजावट के लिए ठेकेदार ने जड़वाया करोड़ों साल का इतिहास

Rani Sahu
5 May 2022 4:26 PM GMT
बैंकॉक में फुटपाथ पर जड़े गए जीवाश्म, सजावट के लिए ठेकेदार ने जड़वाया करोड़ों साल का इतिहास
x
जीवाश्म वैज्ञानिक वैसे तो जीवाश्मों की खोज में दुनिया के अलग-अलग हिस्सों तक चले जाते हैं

बैंकॉक: जीवाश्म वैज्ञानिक वैसे तो जीवाश्मों की खोज में दुनिया के अलग-अलग हिस्सों तक चले जाते हैं। लेकिन बैंकॉक में चलते फिरते पैरों के नीचे जीवाश्म मिल गए हैं। ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि ये जीवाश्म एक शॉपिंग मॉल के बाहर फुटपाथ पर जड़े हुए हैं। लोग इन पर चल भी रहे हैं, लेकिन आज तक किसी ने ध्यान नहीं दिया कि उनके पैरों के नीचे करोड़ों साल पुरानी सभ्यता है। थाइलैंड के विशेषज्ञों ने 70 जीवाश्म मिलने की पुष्टि की है जो करीब 6.6 करोड़ साल पुराने जलीय जीव के हैं।

बैंकॉक में सियाम स्क्वायर शॉपिंग सेंटर के बाहर फुटपाथ के पत्थरों पर ये जीवाश्म हैं। इन जीवाश्मों पर एक दुकानदार ने ध्यान दिया। सबसे पहले उसने घोंघा की आकृति के जीवाश्म देखे जो करीब 12 सेंटीमीटर थे। फुटपाथ पर जब उसने नजर दौड़ाई तो उसे 400 मीटर तक कई जीवाश्म दिखे।

6.6 करोड़ साल पहले जुरासिक समय के हैं जीव
प्राकृतिक संसाधन और पर्यावरण मंत्रालय के जीवाश्म वैज्ञानिकों ने इस बात की पुष्टि की है कि उन्हें 77 जीवाश्म मिले हैं। जीवाश्म संरक्षण विभाग के निदेशक प्रीचा सैथोंग ने कहा कि ये माना जा रहा है कि पाए गए जीवाश्म अमोनाइट समुद्री जीव के हैं, जो 6.6 करोड़ साल पहले जीवाश्म बन गए। ये जीव जुरासिक और क्रेटेशियस काल के दौरान रहते थे।
अरबों सालों से पृथ्वी से ही पानी खींचता रहा है चांद, नई थ्योरी में बर्फ बनने को लेकर हुआ खुलासा
दो साल पहले फुटपाथ में जड़े गए थे पत्थर
उन्होंने कहा कि अमोनाइट असली हैं, जो जीवाश्म आमतौर पर पाए जाने वाले जीवाश्मों से अलग हैं। इन्हें मेडागास्कर और मोरक्कों समेत टूरिस्ट स्थानों पर स्मृति चिन्ह के रूप में बेचा जाता है। स्थानीय मीडिया के मुताबिक दो साल पहले फुटपाथ की मरम्मत की गई थी और ठेकेदारों द्वारा कंक्रीट में इन गोलों को सजावट के लिए डाला गया था।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta