धर्म-अध्यात्म

वास्तु टिप्स: रसोई में 'हां' दिशा में रखें देवी अन्नपूर्णा की तस्वीर

Bhumika Sahu
2 July 2022 8:37 AM GMT
वास्तु टिप्स: रसोई में हां दिशा में रखें देवी अन्नपूर्णा की तस्वीर
x
वास्तु टिप्स

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। वास्तु टिप्स: अन्नपूर्णा को देवी मां (अन्नपूर्णा देवी) के रूप में पूजा जाता है । रसोई में देवी अन्नपूर्णा की महक आती है। इसलिए लोग घर में अन्नपूर्णा माता पूजा (अन्नपूर्णा देवी पूजा विधि) की पूजा करते हैं और रसोई में गंगा जल छिड़कते हैं। आपने कुछ घरों में भगवान शिव को भिक्षा देने वाली मां अन्नपूर्णा की छवि देखी होगी। इस तस्वीर (अन्नपूर्णा देवी फोटो) को देखने के बाद कई बार आपने सोचा होगा कि इस छवि के पीछे मुख्य कारण क्या है? इसके पीछे एक कहानी है। इस लेख में हम आपको उस कहानी के बारे में बताएंगे। तो आइए जानें कि अन्नपूर्णा मां की यह तस्वीर किचन में क्यों लगाती हैं।

अन्नपूर्णा माता की कथा
एक बार की बात है, पृथ्वी पर पानी और भोजन की कमी थी। हर तरफ हाहाकार मच गया। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए लोग त्रिदेव यानी ब्रह्मा, विष्णु और शिव की पूजा करते हैं। तब भगवान शिव पृथ्वी पर आए और माता पार्वती ने अन्नपूर्णा का रूप धारण किया। इस समय भगवान शिव ने एक साधु का रूप धारण किया था। भगवान शिव ने मां अन्नपूर्णा से भीख मांगकर पृथ्वी पर रहने वाले लोगों की भोजन समस्या का समाधान किया था। तभी से लोग माता अन्नपूर्णा की पूजा करते हैं। दूसरी कथा यह है कि एक बार सभी देवताओं ने मिलकर कहा कि ब्रह्मा माया से श्रेष्ठ हैं। तब भगवान शिव ने स्वीकृति दी और कहा कि भोजन भी माया है।
आदिशक्ति ने क्रोध में आकर माया को अपने वश में कर लिया। परिणामस्वरूप, पूरी सृष्टि में अकाल पड़ गया। भगवान शिव जगदम्बा के क्रोध से अवगत थे। तब शिव उन्हें प्रसन्न करने के लिए भिखारी के रूप में काशी आए। वहाँ उन्होंने जगदम्बा से भीख माँगी। एक भिखारी के रूप में भोलेनाथ की विनम्र पुकार सुनकर आदिशक्ति जगदम्बा भावुक हो गईं। आदिशक्ति जब भिक्षा देने आई तो उसने देखा कि उसका पति महादेव भिखारी के रूप में आया है। यह देख माता आदिशक्ति का क्रोध शांत हुआ और उन्होंने भी अपना प्रेम लौटा दिया।
अन्नपूर्णा माता की प्रतिमा धारण करने के ये हैं लाभ
– रसोई में अन्नपूर्णा मां की प्रतिमा लगाने से अन्न की कमी नहीं होती है. पैसों की कोई कमी नहीं है।
– इस प्रतिमा को अपनी रसोई में रखने से भोजन सात्विक और शुद्ध रहता है।
– रसोई में अन्नपूर्णा मां की तस्वीर लगाने से पूरे घर में सकारात्मकता आती है.
– ऐसा माना जाता है कि यह छवि घर में रहने वाले लोगों के गुस्से को नियंत्रित करती है।
– इस प्रतिमा को किचन में रखने से घर में सुख-समृद्धि आती है।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta