धर्म-अध्यात्म

चंद्र के कमजोर होने पर होती हैं ये बीमारियां, जानें उपाए

Gulabi
1 Jan 2022 10:57 AM GMT
चंद्र के कमजोर होने पर होती हैं ये बीमारियां, जानें उपाए
x
दुनिया में तमाम लोगों को कई तरह की बीमारियां झेलनी पड़ती हैं
दुनिया में तमाम लोगों को कई तरह की बीमारियां झेलनी पड़ती हैं. कई बार इनकी वजह आनुवांशिकता होती है, कई बार खराब लाइफस्टाइल या कुछ दवाएं और मेडिकल कंडीशन भी तमाम बीमारियों का कारण हो सकती है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि बीमारियों का संबन्ध हमारे ग्रह नक्षत्रों से भी होता है?
ज्योतिष के अनुसार कुछ बीमारियों की वजह हमारे ग्रहों की खराब स्थितियां होती हैं. जब कोई ग्रह हमारी कुंडली में कमजोर स्थिति में होता है तो उसके नकारात्मक प्रभाव हमारे जीवन पर पड़ते हैं. तमाम बीमारियां इन नकारात्मक प्रभावों के कारण होती है. फेफड़ों से जुड़ी ज्यादातर परेशानियों की वजह चंद्र की कमजोर स्थिति को माना जाता है. यहां जानिए चंद्र के कमजोर होने के कारण होने वाली बीमारियों के बारे में और चंद्र को मजबूत करने के तरीकों के बारे में.
चंद्र के कमजोर होने पर होती हैं ये बीमारियां
चंद्र ग्रह का संबंध जल और मन से है. ऐसे में चंद्र के कमजोर होने पर व्यक्ति को खांसी-जुकाम, अस्थमा, आईएलडी आदि सांस या फेफड़ों से संबंधित बीमारियां परेशान करती हैं. इसके अलावा तनाव, डिप्रेशन, एकाग्रता की कमी, नींद न आना आदि दिमाग को विचलित करने वाली सभी समस्याओं की वजह भी चंद्र को ही माना जाता है. अगर आपके साथ भी ऐसी कोई समस्या है तो आपको चंद्र की स्थिति को मजबूत करने के कुछ उपाय करने चाहिए.
चंद्र को मजबूत करने के तरीके
1. चंद्रमा को मजबूत करने के लिए महादेव की पूजा करनी चाहिए और कम से कम 10 या 54 सोमवार का व्रत रखना चाहिए. इसके अलावा हर सोमवार को महादेव का जलाभिषेक करें और शिव चालीसा का पाठ करें. इससे चंद्रमा मजबूत होगा और मानसिक शांति भी मिलेगी.
2. अगर आप सोमवार का व्रत नहीं रख सकते तो सोमवार को नमक का सेवन न करें. दही, दूध, चावल, चीनी और घी से बने खाद्य पदार्थ खाएं, लेकिन इनमें भी नमक इस्तेमाल न करें.
3. सोमवार के दिन सफेद वस्त्र पहनें और चंद्र मंत्र 'ॐ श्रां श्रीं श्रौं स: चंद्राय नम:' का नियमित जाप करें. इसके अलावा किसी पात्र व्यक्ति को घी भरा कलश, दही, सफेद वस्त्र, सफेद मोती या चांदी का दान करें.
4. सुबह उठकर रोजाना मां के चरण स्पर्श करें. माता की सेवा करें और उन्हें प्रसन्न रखें. इससे भी चंद्रमा की स्थिति मजबूत होती है.
5. महादेव के मंत्र 'ॐ नम: शिवाय' का अधिक से अधिक जाप करें. महादेव ने चंद्रमा को अपने सिर पर धारण किया हुआ है. यदि महादेव प्रसन्न हुए तो चंद्रमा भी अपने आप मजबूत हो जाएगा.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta