धर्म-अध्यात्म

2022 में आचार्य की इन बातों से करें न्यू ईयर रेजोल्यूशन, जिंदगी में कभी नहीं खाएंगे मात

Renuka Sahu
11 Dec 2021 1:30 AM GMT
2022 में आचार्य की इन बातों से करें न्यू ईयर रेजोल्यूशन, जिंदगी में कभी नहीं खाएंगे मात
x

फाइल फोटो 

New Year 2022 आने में कुछ ही दिन बाकी हैं. तमाम लोग काफी समय पहले से ये सोचने लगते हैं कि नए साल का रेजोल्यूशन क्या होना चाहिए.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। New Year 2022 आने में कुछ ही दिन बाकी हैं. तमाम लोग काफी समय पहले से ये सोचने लगते हैं कि नए साल का रेजोल्यूशन क्या होना चाहिए. हम आपको बताने जा रहे हैं आचार्य चाणक्य की वो बातें जिनसे आपको न्यू ईयर रेजोल्यूशन डिसाइड करने में मदद मिलेगी.

क्रोध और अहंकार का त्याग : आचार्य के मुताबिक क्रोध और अहंकार दोनों ही व्यक्ति के बड़े दुश्मन हैं. क्रोध व्यक्ति का विवेक हर लेता है और अहंकार में व्यक्ति को सही और गलत का फर्क नजर नहीं आता. इनसे आपके जीवनभर की मेहनत पर पानी फिर सकता है. इसलिए इस बार न्यू ईयर रेजोल्यूशन के तौर पर आप अपने दोनों दुश्मनों को त्यागने का संकल्प लें.
आलोचना से परेशान न हों : जब व्यक्ति आगे बढ़ता है या कुछ नया करता है तो उसे आलोचना का शिकार होना पड़ता है. इसके अलावा भी कई बार परिस्थितियां ऐसी हो जाती हैं कि आपके लिए आलोचनाओं की झड़ी लग जाती है. लेकिन अगर आपको यकीन है कि आप जो कर रहे हैं वो सही है, तो आलोचनाओं की फिक्र कभी न करें. समय बदलने के साथ आलोचना भी तारीफ में बदल जाती है. इसलिए लक्ष्य पर फोकस करके अपना काम जारी रखें.
गलती को न दोहराएं : कहा जाता है कि गलती इंसान से ही होती है, ये बिल्कुल सही है. गलती करना गलत नहीं होता, बल्कि इससे तो व्यक्ति को अनुभव मिलता है. लेकिन गलती को दोहराना गलत होता है. यदि आप गलतियों को दोहराएंगे तो कभी सफल नहीं हो पाएंगे. इसलिए अपनी गलती से सीखने का प्रयास करें.
परिश्रम से न घबराएं : बगैर परिश्रम किए किसी को सफलता नहीं मिलती. इसलिए कभी भी परिश्रम से नहीं घबराएं. आप जीवन में जो भी प्राप्त करना चाहते हैं, उसके लिए इतनी मेहनत कीजिए कि वो चीज आपके पास आने के लिए मजबूर हो जाए. मेहनत के बाद जब लक्ष्य की प्राप्ति होती ​है तो उसका आनंद ही कुछ और होता है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta