धर्म-अध्यात्म

एकदंत संकष्टी चतुर्थी पर करें ये 6 आसान उपाय, जानें पूजा विधि

Tulsi Rao
18 May 2022 5:19 AM GMT
एकदंत संकष्टी चतुर्थी पर करें ये 6 आसान उपाय, जानें पूजा विधि
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। ज्येष्ठ माह की संकष्टी चतुर्थी व्रत 19 मई दिन गुरुवार को है. यह एकदंत संकष्टी चतुर्थी (Ekdant Sankashti Chaturthi) व्रत है. संकष्टी चतुर्थी व्रत के दिन गणेश जी की पूजा अर्चना करने से करियर, बिजनेस, धन, दौलत, सुख, समृद्धि में बढ़ोत्तरी होती है. भगवान गणेश जी की कृपा से कार्यों में सफलता और तरक्की मिलती है. वे बिगड़े कामों को भी बना देने वाले और उसमें सफलता प्रदान करने वाले देव हैं. संकष्टी चतुर्थी व्रत रखने और गणेश पूजन करने से सभी प्रकार के संकट दूर होते हैं. काशी के ज्योतिषाचार्य च्रकपाणि भट्ट से जानते हैं संकष्टी चतुर्थी के उन उपायों के बारे में, जिनको करने से सफलता और तरक्की मिलती है.

एकदंत संकष्टी चतुर्थी व्रत के उपाय
1. यदि आपको अपने बिजनेस में तरक्की चाहिए तो एकदंत संकष्टी चतुर्थी के दिन गणेश जी को पूजा के समय दूर्वा की 21 गाठें और गुड़ के 21 लड्डू अर्पित करें. हर बार आपको ओम वक्रतुंडाय नम: मंत्र का उच्चारण करते रहना होगा.
2. घर में सुख, शांति के साथ ही धन, संपत्ति एवं समृद्धि में बढ़ोत्तरी चाहिए तो संकष्टी चतुर्थी के दिन एक चांदी के कटोरी में सुपारी, लौंग और जायफल रख दें और उसे गणेश जी के समक्ष रख दें.
3. आपको अपने करियर या काम में सफलता प्राप्त नहीं हो रही है, तो संकष्टी चतुर्थी के दिन गणेश जी की पूजा करें. फिर उनके गं गणपतये नमः मंत्र का कम से कम 11 बार जाप करें. हर जाप के साथ गणेश जो एक फूल अर्पित करें.
4. संकष्टी चतुर्थी वाले दिन गणेश जी को पूजा में पान का पत्ता अर्पित करें. पान के पत्ते पर हल्दी से स्वास्तिक बना लें, फिर उसे गणेश जी को अर्पित कर दें. ऐसा करने से आपके विरोधियों और शत्रुओं का प्रभाव शुन्य होगा, आपके कार्यों में बाधाएं नहीं आएंगी. कार्य सफल होगा.
5. करियर में काफी मेहनत करने के बाद भी सफलता प्राप्त नहीं हो रही है, तो संकष्टी चतुर्थी के दिन गणेश जी की पूजा करें. एक लोटे में जल लेकर उसमें सफेद तिल मिला लें. उसे गणेश जी के समक्ष रख दें. गणेश जी के पूजन के बाद उसे वहीं रहने दें. रात्रि के समय में उस लोटे के जल से चंद्र देव को अर्घ्य दें. आपको करियर में सफलता और तरक्की मिलेगी.
6. आपको अपने जीवन के दुखों और संकटों से मुक्ति चाहिए, तो संकष्टी चतुर्थी के दिन गणेश जी के समक्ष तांबे का एक लोटा स्थापित करें. उसमें एक रुपये का सिक्का और एक सुपारी डालकर रख दें.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta