धर्म-अध्यात्म

गायत्री मंत्र का जाप करते वक्त न करें ये गलतियां

Mahima Marko
10 Jun 2022 7:46 AM GMT
गायत्री मंत्र का जाप करते वक्त न करें ये गलतियां
x
ऊँ भूर्भुवः स्वः तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो नः प्रचोदयात्। इस साल गायत्री जंयती 11 जून दिन शनिवार को है.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। ऊँ भूर्भुवः स्वः तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो नः प्रचोदयात्। इस साल गायत्री जंयती 11 जून दिन शनिवार को है. बता दें कि हिंदू धर्म के अनुसार, गायत्री मंत्र बेहद महत्वपूर्ण और प्रभावशाली होता है. इसका जाप करने से हम अपने आसपास एक सुरक्षा कवच महसूस करते हैं. लेकिन कई लोग इस मंत्र का जाप करते वक्त कुछ गलतियां कर देते हैं, जिसका नकारात्मक परिणाम जीवन पर माध्यम से बताएंगे कि पड़ता है. ऐसे में इन गलतियों के बारे में पता होना जरूरी है. आज का हमारा लेख इसी विषय पर है. आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि गायत्री मंत्र का जाप करते वक्त किन गलतियों को न करें.

गायत्री मंत्र का जाप करते वक्त न करें ये गलतियां
गायत्री मंत्र का जाप हमेशा स्नान करने के बाद ही करना चाहिए. बिना स्नान किए इस मंत्र का जाप न करें.
पीले कपड़े पहनकर ही गायत्री मंत्र का जाप करना चाहिए. काले या नीले कपड़े पहनकर इस मंत्र का जाप अशुभ माना जाता है.
गायत्री मंत्र का जाप पूर्व दिशा की तरफ मुंह करके करना चाहिए. दक्षिण दिशा की तरफ मुंह करके नहीं करना चाहिए.
गायत्री मंत्र का जाप 7, 11, 21 या 108 माला करना चाहिए.
गायत्री मंत्र का जाप करने के लिए तुलसी की माला या चंदन की माला का इस्तेमाल करें.
गायत्री मंत्र यदि आप रोज कर रहे हैं तो एक निश्चित समय पर करें. वैसे आप सुबह, दोपहर और शाम तीनों वक्त इस मंत्र का जाप कर सकते हैं.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta