धर्म-अध्यात्म

चाणक्‍य नीति : इन 5 बातों को हमेशा रखें राज, वरना झेलनी पड़ेंगी भारी मुसीबतें

Renuka Sahu
8 Nov 2021 4:38 AM GMT
चाणक्‍य नीति : इन 5 बातों को हमेशा रखें राज, वरना झेलनी पड़ेंगी भारी मुसीबतें
x

फाइल फोटो 

महान अर्थशास्‍त्री और कूटनीतिज्ञ आचार्य चाणक्‍य ने खुशहाल, सफल और सम्‍मानजनक जिंदगी पाने के जो तरीके बताए हैं, वे आज भी बेहद प्रासंगिक हैं.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। महान अर्थशास्‍त्री और कूटनीतिज्ञ आचार्य चाणक्‍य (Acharya Chanakya) ने खुशहाल, सफल और सम्‍मानजनक जिंदगी पाने के जो तरीके बताए हैं, वे आज भी बेहद प्रासंगिक हैं. चाणक्‍य नीति (Chanakya Niti) में लिखी गईं बातें आज के जीवन और परिस्थितियों पर वैसे ही सटीक बैठती हैं जैसे आचार्य चाणक्य के समय में सटीक थीं. उन्‍होंने काम-काज, तरक्‍की-व्‍यापार, समाजिक जीवन के अलावा गृहस्‍थ जीवन, व्‍यावहारिक जीवन आदि के बारे में भी बहुत काम की बातें बताईं हैं. यदि व्‍यक्ति इन बातों को अपनाए तो हमेशा सुखी जीवन जीता है.

किसी को न बताएं ये राज
चाणक्‍य नीति के मुताबिक व्‍यक्ति को अपने परिजनों, घनिष्‍ठ मित्र और अपनी पत्‍नी को अपने सुख-दुख, परेशानियों के बारे में बताना चाहिए क्‍योंकि ये लोग मुश्किल में साथ देते हैं. लेकिन उसे कुछ बातें हर किसी को नहीं बतानी चाहिए और ये राज (Secrets) उसे अपने तक ही सीमित रखने चाहिए. वरना व्‍यक्ति गंभीर मुसीबत में फंस सकता है.
दांपत्‍य जीवन: पति-पत्‍नी के बीच की बातों के बारे में कभी किसी को नहीं बताना चाहिए. इस मामले में घनिष्‍ठ मित्र को न बताएं, वरना मुश्किल में पड़ सकते हैं. इससे आपका अपमान भी होगा और आपके वैवाहिक जीवन में दरार भी आ सकती है.
अपमान: वैसे तो कभी भी ऐसी स्थिति पैदा ही न होने दें कि अपमान हो, लेकिन दुर्भाग्‍यवश ऐसा हो भी जाए तो उसके बारे में कभी किसी को न बताएं. इससे आपकी छवि को नुकसान पहुंचता है और लोगों के मन में आपका सम्‍मान कम होता है.
धन हानि: जिंदगी में कई बार व्‍यक्ति को धन हानि झेलनी पड़ती है, कर्ज लेना पड़ता है. यदि ऐसी मुश्किल में घिर जाएं तो इसके बारे में किसी को नहीं बताना चाहिए, वरना आपका पैसा कम होता देख लोग आपसे दूरी बना लेंगे. व्‍यक्ति के पास यदि पैसा न रहे तो लोगों का उसके प्रति नजरिया बदलते देर नहीं लगती है.
अपनी धन-संपत्ति: जिस तरह पैसे के नुकसान के बारे में किसी को नहीं बताना चाहिए, उसकी तरह अपनी आय और धन-संपत्ति के बारे में भी किसी को नहीं बताना चाहिए. वरना ईर्ष्‍यालू लोग आपका नुकसान करा सकते हैं.
अपने दुख: अपने दुख-परेशानियां भी हर किसी को नहीं बतानी चाहिए. क्‍योंकि ये लोग मदद तो नहीं करेंगे, उल्‍टा आपका मजाक उड़ाएंगे.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta