धर्म-अध्यात्म

वास्तु शास्त्र के अनुसार : जानिए आग्नेय कोण में रंग रोगन करवाने के बारे में

Bharti
15 Sep 2021 5:25 AM GMT
वास्तु शास्त्र के अनुसार :  जानिए आग्नेय कोण में रंग रोगन करवाने के बारे में
x
वास्तु शास्त्र में आज आचार्य इंदु प्रकाश से जानिए आग्नेय कोण में रंग रोगन करवाने के बारे में।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | वास्तु शास्त्र में आज आचार्य इंदु प्रकाश से जानिए आग्नेय कोण में रंग रोगन करवाने के बारे में। आग्नेय कोण यानी दक्षिण और पूर्व के मध्य का तत्व काष्ठ यानि लकड़ी है। इसका संबंध व्यापार और विकास से है। शरीर में इस दिशा का प्रभाव नितम्ब पर पड़ता है।

अगर आपके नितम्बों में कोई कष्ट है तो आग्नेय कोण के वास्तु सुधार और सही रंग पर ध्यान देना चाहिए। इस दिशा का नैसर्गिक रंग, हरा है। इस दिशा में हरा रंग करवाने से इस दिशा संबंधी तत्वों के सही परिणाम प्राप्त होते हैं।आग्नेय कोण का सहायक तत्व वायु है जो अग्नि को जलने में मदद करता है। सामान्यतया इस कोने में रसोईघर या ड्राइंगरूम बनाने की व्यवस्था करनी चाहिए। परिवार की बड़ी बेटी का संबंध भी घर की इसी दिशा से है।


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it