Top
मनोरंजन

Tv show: कॉमेडी सीरियल 'तेरा यार हूं मैं' रिलीज़ को तैयार...दिखेगा रिश्तों में प्यार और इमोशन्स...सास-बहू ड्रामा से होगा अलग

Janta se Rishta
19 Aug 2020 1:27 PM GMT
Tv show: कॉमेडी सीरियल तेरा यार हूं मैं रिलीज़ को तैयार...दिखेगा रिश्तों में प्यार और इमोशन्स...सास-बहू ड्रामा से होगा अलग
x

Tera Yaar Hoon Main Cast, SAB TV New Serial, Story, Timings, Real ...

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। सोनी सब पर बहुत जल्द फैमिली कॉमेडी सीरियल 'तेरा यार हूं मैं' आने के लिए तैयार है. इसकी शूटिंग भी शुरू हो चुकी है. यह सीरियल शशि-सुमीत प्रोडक्शन हाउस द्वारा निर्मित है. इस सीरियल में पिता के किरदार में सुदीप साहिर, मां के किरदार में श्वेता गुलाटी और बेटे के किरदार में अंश सिन्हा नज़र आएंगे. सीरियल की कहानी पिता और बेटे के इर्द-गिर्द घूमेगी, जहां एक पिता अपने बेटे का दोस्त बनना चाहता है. सुदीप और श्वेता ने बताया की सरकार की गाइडलाइन्स को फॉलो करते हुए और कोविड 19 से बचने के लिए उनके सेट पर बहुत सावधानी बरती जा रही है. जगह जगह पर सैनिटाइज़र रखे हुए हैं, टेम्प्रेचर मशीन है और सोशल डिस्टेंसिंग का खासा ख्याल रखा जाता है. साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि इस सीरियल में रिश्तों में प्यार और इमोशन्स के साथ-साथ कॉमेडी भी होगी.

क्या है शो की कहानी?

अपने किरदार के बारे में बताते हुए सुदीप साहिर ने कहा, "मेरे किरदार का नाम है राजीव भंसल. वो जयपुर में रहता है और एक बैंक का ब्रांच मैनेजर है. बहुत ही सीधा-साधा स्मार्ट आदमी है, दिल का साफ है और अपने परिवार को बहुत प्यार करता है. उसकी बस एक चीज है कि उसका अपने पापा से जो दोस्ती वाला रिश्ता नहीं हो पाया वो मेरे बेटे से दोस्ती कर रहा है. जब उसका बेटा छोटा था तो राजीव भी उसके साथ बच्चा बन गया, उसके साथ फुटबॉल खेलने लगा, साइकिल चलाना सिखाया, उसके साथ था हर वक्त लेकिन एक समय के बाद राजीव बाप बन गया और जब वो बाप बन गया तो बेटा जो है वो अपनी मां के करीब ज्यादा हो गया और फिर एक ऐसी सिचुएशन आ गयी कि हर चीज़ में बेटा मां से ही बात करता था, बाप को भूल गया. तो इससे राजीव को बहुत फरक पड़ा और उसके बाद उसने सोंचा कि वो अपने बेटे को अपना दोस्त बनाकर ही रहेगा.

मां के किरदार में पहले एमी त्रिवेदी नज़र आने वाली थीं लेकिन अब श्वेता गुलाटी इस किरदार को निभा रही हैं. अपने किरदार के बारे में बताते हुए श्वेता ने कहा, "मेरे किरदार का नाम है जहान्वी बंसल है और मैं ऋषभ की मां का किरदार निभा रही हूं. कहते हैं ना कि बच्चे मां से ज्यादा क्लोज होते हैं. मां के साथ जो रिश्ता होता है वो बहुत ही मजबूत और बहुत ही कम्फर्टेबले होता है. मैं वो मां हूं जिसके साथ बच्चे सब कुछ शेयर करते हैं. जो जनरेशन गैप बोलते हैं, वो बाप और बेटे के बीच में ज़्यादा होता है क्यूंकि मां आसानी से अपने बच्चों की दोस्त बन जाती है. पापा को थोड़ा वक़्त लगता है दोस्त बनने में, कभी-कभी नहीं बन पाते हैं.

एक ऐसा समय आता है जब मां ही एक बच्चे और उसके पापा के बीच में ब्रिज होती है. मेरे साथ भी ऐसा हुआ है रियल लाइफ में बहुत सालों पहले. मैंने अपने पापा से कभी बात ही नहीं थी, हमेशा मम्मी के ज़रिए पापा तक बात पहुंचती थी. कहीं जाना है परमिशन चाहिए, पैसे चाहिए, हर चीज़ पर मम्मी को ही बोलती थी कि पापा को बोलो ना मुझे यहां जाना है. मतलब, जो चीज़ मेरी मम्मी मेरे और पापा के बीच किया करती थी वहीं मैं इस सीरियल में ऋषभ और राजीव के बीच कर रही हूं."

कैसे होगा सास-बहू सीरियल से अलग

फैमिली ड्रामा सीरियल्स या तो मां-बेटी या फिर सास-बहू के रिश्तों पर आधारित होते हैं. ये ऐसा सीरियल है जहां एक पिता का स्ट्रगल दिखाया जाएगा जो अपने बेटे का दोस्त बनने की कोशिश करता है. इसपर सुदीप ने कहा कि, "भगवान का शुक्र है कि ये शो हटकर है. मैं बहुत लक्की हूं की मुझे ऐसा शो ऑफर हुआ टेलीविजन में, क्योंकि किसी ने ऐसा कांसेप्ट अभी तक सोंचा ही नहीं, मैं बहुत शुक्रगुज़ार हूं शशि और सुमित जी का जिन्होंने इसपर विचार किया. ऐसा नहीं है कि ये किसी ने सोंचा नहीं तो है ही नहीं, ये बहुत ही वैलिड कांसेप्ट है. मैं कितने लोगों को जानता हूं जो इस तरह के रिश्ते में हैं जो अपने मां से क्लोज हैं लेकिन अपने पिता से नहीं. और उनको ऐसा लगता है की पापा को कोई फरक नहीं पड़ता पर ऐसा नहीं है, पापा को सच में बहुत फरक पड़ता है. ये प्रोमो देखकर कितनों के मुझे फ़ोन आए हैं. एक ने तो मुझे कहा कि मैं कभी भी अपने बेटे का दोस्त नहीं बन पाया, मैं बहुत स्ट्रिक्ट था, मैं चाहता था कि वो पढ़ाई करे, कुछ बने अपनी लाइफ में. लेकिन अब मैं रिग्रेट करता हूं क्योंकि उस प्रोसेस में मैं उससे इतना दूर हो गया कि मुझे आपके सीरियल का प्रोमो देखकर रोना आ गया. ये सुनकर मुझे लगा कि सच में ये कांसेप्ट बहुत ही अच्छा है और मुझे लगता है की ये सीरियल सभी के दिल को छुएगा."

साथ ही श्वेता ने भी कहा कि, "ये शो मैंने लिया ही इसलिए है क्योंकि ये शो हटकर है. इसकी जो स्टोरी लाइन है वो अलग है. रिश्तों के मामले में अलग नहीं है क्योंकि इन रिश्तों को हम रोज जीते हैं. लेकिन एक पापा और बेटे के रिश्ते को अभी तक टीवी पर नहीं दर्शाया गया है जिसके वजह से ये शो अलग और यूनिक हो जाता है. इसीलिए मैंने मम्मी का रोल भी एक्सेप्ट किया." यह सीरियल सोनी सब पर 31 अगस्त से सोमवार से शुक्रवार रात 9 बजे ऑन एयर होगा.

https://youtu.be/9rGxCTV2jHc

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it