Top
विज्ञान

रिसर्च: स्वास्थ्य खतरों के बारे में बताता है खून में विटामिन डी का स्तर,जानें कैसे?

Janta se Rishta
8 Sep 2020 2:42 PM GMT
रिसर्च: स्वास्थ्य खतरों के बारे में बताता है खून में विटामिन डी का स्तर,जानें कैसे?
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। ब्रसेल्स, आइएएनएस। शोधकर्ताओं के मुताबिक रक्त में विटामिन डी का स्तर भविष्य में होने वाली बीमारियों का सबसे अच्छा संकेतक है। पूर्व में भी यह बात सामने आ चुकी है कि विटामिन डी की कमी कई उम्र संबंधी बीमारियों से जुड़ी है, इसमें दिल की बीमारी, कैंसर और गठिया रोग प्रमुख हैं। यह अध्ययन मंगलवार को आयोजित ई-ईसीई 2020 ऑनलाइन सम्मेलन में प्रस्तुत किया गया।

शरीर में विटामिन डी के कई रूप या मेटाबोलाइट्स हैं, लेकिन इन मेटाबोलाइट्स की कुल मात्रा को अक्सर विटामिन डी का आकलन करने के लिए उपयोग किया जाता है। प्रोहार्मोन और 25 -डाइहाइड्रॉक्सीविटामिन डी 125- डाइहाइड्रॉक्सी विटामिन डी में परिवर्तित हो जाता है और इसे हमारे शरीर में विटामिन डी का सक्रिय रूप माना जाता है।

रक्त में मौजूद विटामिन डी का स्तर स्वास्थ्य खतरों के बारे में सबसे अच्छा संकेत

रक्त में मौजूद विटामिन डी मेटाबोलाइट्स के 99 फीसद से अधिक एक तरह के प्रोटीन हैं और विटामिन डी का एक छोटा सा हिस्सा जैविक रूप से सक्रिय होने के लिए स्वतंत्र है। ऐसे में यह माना जा सकता है कि रक्त में मौजूद विटामिन डी का स्तर स्वास्थ्य खतरों के बारे में सबसे अच्छा संकेतक है।

बेल्जियम के यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल्स ल्यूवेन के शोध दल ने 40-79 आयु वर्ग के 1970 पुरुषों के डाटा का उपयोग करके यह पता लगाने का प्रयास किया कि विटामिन डी के स्वतंत्र मेटाबोलाइट्स बेहतर स्वास्थ्य संकेतक हैं या नहीं।

विटामिन डी की कमी सामान्य स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव से है जुड़ी

शोध के दौरान विटामिन डी के कुल और स्वतंत्र मेटाबोलाइट्स के स्तर की तुलना उनकी वर्तमान स्वास्थ्य स्थिति के साथ की गई थी। आंकड़ें इस बात की पुष्टि करते हैं कि विटामिन डी की कमी सामान्य स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव से जुड़ी है और भविष्य में होने वाली परेशानियों के बारे में भी बताती है।

https://jantaserishta.com/news/chhattisgarh-recruitment-of-49-posts-of-staff-nurse-and-lab-technician-in-this-district-walk-in-interview-on-12-14-september/

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it