Top
विश्व

स्पेन में बढ़ी बेरोजगारी, महामारी व यात्रा प्रतिबंध बना मुख्य कारण

Janta se Rishta
2 Sep 2020 12:19 PM GMT
स्पेन में बढ़ी बेरोजगारी, महामारी व यात्रा प्रतिबंध बना मुख्य कारण
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | मैड्रिड,कोविड-19 के कारण फैली महामारी की वजह से दुनिया के अधिकतर देशों में लॉकडाउन का ऐलान किया गया था। इसके बाद दुनियाभर में व्यापार ठप हो गए और वैश्विक अर्थव्यवस्था को बड़ा नुकसान हुआ। कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में से एक स्पेन की भी अर्थव्यवस्था पटरी से उतर गई है। स्पेन में बेरोजगारी के आंकड़े बढ़ते ही जा रहे हैं। अगस्त में बेरोजगारों का रजिस्टर्ड आंकड़ा काफी बढ़ गया।

यात्रा प्रतिबंधों के कारण बेरोजगारों की संख्या में 0.79 फीसद की बढ़ोतरी अगस्त में दर्ज की गई। इसके साथ ही देश में गत मई माह में जो सकारात्मकता दिख रही थी वह पूरी तरह खत्म हो गया। बता दें कि मई में यूरोपीय देशों में लगे सख्त लॉकडाउन से स्पेन को राहत दी जा रही थी। पर्यटन पर निर्भर अधिकांश देशों की अर्थव्यवस्था इस वक्त डांवाडोल हो गई है। कुल मिलाकर अभी स्पेन में 7 लाख 40 हजार से अधिक लोग बेरोजगार हैं। केवल मार्च में लॉकडाउन के कारण 9 लाख नौकरियां चली गई। जून में तीन महीनों के लॉकडाउन के बाद स्पेन की अर्थव्यवस्था फिर से पटरी पर लौटी लेकिन महामारी के दूसरे दौर की शुरुआत और अन्य यूरोपीय देशों द्वारा लागू यात्रा प्रतिबंधों के कारण ने यहां पर्यटन के मौसम की आबोहवा को बिगाड़ दिया।

कोविड-19 के कारण दुनिया के अधिकांश देशों में आर्थिक मंदी ने दस्तक दे दिया है साथ ही भयंकर बेरोजगारी की विकट समस्या भविष्य में आने वाली है और यही बेरोजगारी की समस्या भविष्य में गरीबी और आय असमानता की गंभीर समस्या को पैदा करेगी। जून में लॉकडाउन खत्म होने के बाद से स्पेन में संक्रमण के मामलों में तेजी देखी गई और अब संक्रमितों के आंकड़ मार्च के आंकड़ों के काफी करीब हैं। स्पेन में कोविड-19 मामलों का कुल आंकड़ा अभी 4 लाख 70 हजार से अधिक है और मरने वालों की संख्या 29 हजार 1 सौ 52 है।

https://jantaserishta.com/news/pakistan-is-going-to-get-a-big-blow-from-saudi-arabia-due-to-this-recovery-of-1-billion/

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it