Top
विश्व

तुर्की और ग्रीस में तेल को लेकर तनाव चरम पर, क्रेटे द्वीप समूह के पास दोनों देश करेंगे युद्धाभ्‍यास

Janta se Rishta
25 Aug 2020 11:24 AM GMT
तुर्की और ग्रीस में तेल को लेकर तनाव चरम पर, क्रेटे द्वीप समूह के पास दोनों देश करेंगे युद्धाभ्‍यास
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क: अंकारा: नाटो के दो सदस्‍य देशों तुर्की और ग्रीस के बीच तेल को लेकर तनाव चरम पर पहुंच गया है। अब दोनों ही देशों ने ऐलान किया है कि वे ग्रीस के क्रेटे द्वीप समूह के पास युद्धाभ्‍यास करेंगे। दोनों ही देशो के बीच भूमध्‍य सागर में मिले तेल और गैस के विशाल भंडार को लेकर विवाद पैदा हो गया है। तुर्की ने अन्‍य जहाजों को इलाके में चेतावनी जारी की है और कहा है कि वे वहां से दूर रहें।

उधर, ग्रीस ने भी तुर्की के शोध जहाज के भेजने के ऐलान के बाद युद्धाभ्‍यास की घोषणा कर दी है। उधर, नाटो सदस्‍यों के बीच गहराते तनाव को कम करने के लिए जर्मनी अपने विदेश मंत्री हेइको मास को एथेंस और अंकारा भेजने जा रहा है। मास ग्रीस के प्रधानमंत्री क्रिआकोस मित्‍सोत्‍किस से मुलाकात करेंगे। इसके बाद जर्मन विदेश मंत्री तुर्की जाएंगे। बता दें कि दोनों देशों के बीच क्रेटे और साइप्रस के तट पर विवादित जलसीमा में तेल और गैस के विशाल भंडार मिलने के बाद तनाव बढ़ गया है।

ग्रीस यूरोपीय यूनियन पहुंचा है और संस्‍था ने बातचीत का आह्वान किया है। उधर, फ्रांस ग्रीस के साथ आता दिखाई दे रहा है। उसने हाल ही में ग्रीस के साथ युद्धाभ्‍यास किया था। तुर्की ने सोमवार को ऐलान किया था कि शोध जहाज विवादित जलक्षेत्र में 27 अगस्‍त तक शोध कार्य जारी रखेगा। माना जा रहा है कि इसी से ग्रीस नाराज हो गया है। ग्रीस का कहना है कि यह सर्वे गैरकानूनी है और उसने भी नौसैनिक अभ्‍यास का ऐलान किया है।

रेसेप तैयप एर्दोगान ने कहा नहींं बुलाएंगे जहाज
ग्रीस सरकार ने कहा, 'हम बहुत शांतिपूर्ण तरीके से प्रतिक्रिया दे रहे हैं। साथ ही हम राजनयिक और ऑपरेशनल लेवल पर तैयार हैं। हम अपने संप्रभु अधिकारों की रक्षा करेंगे।' उधर, तुर्की के राष्‍ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगान ने कहा है कि हम अपने शोध जहाज को वापस बुलाने या उसकी रक्षा में लगे नौसैनिक जहाजों को वापस बुलाने के लिए एक छोटा सा भी कदम नहीं उठाएंगे। उन्‍होंने कहा क‍ि ग्रीस ने खुद ही अपने आपको अराजक स्थिति में धकेला है जिससे निकलने का वह रास्‍ता नहीं ढूंढ पा रहा है।

बताया जा रहा है कि ग्रीस की मदद के लिए अब संयुक्‍त अरब अमीरात आता दिख रहा है। UAE ने ऐलान किया है कि वह अपने एफ-16 विमानों को इस सप्‍ताह क्रेटे द्वीप के पास अभ्‍यास के लिए भेजेगा। बता दें कि एर्दोगान ने ऐलान किया है कि उन्‍हें काला सागर तट के पास में 320 अरब क्‍यूबिक मीटर प्राकृतिक गैस के भंडार मिले हैं। उन्‍होंने कहा, 'तुर्की ने काला सागर में अब तक के सबसे बड़े गैस के भंडार की खोज की है।' राष्‍ट्रपति ने कहा कि इस प्राकृतिक गैस का उत्‍पादन वर्ष 2023 से होने लगेगा।

https://jantaserishta.com/news/a-conspiracy-hatched-in-america-for-fraudulently-seeking-insurance-money-mother-and-daughter-of-indian-origin-jailed/

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it