भारत

पंजाब में AAP की सरकार बनेगी तो सरकारी नौकरी में भ्रष्टाचार खत्म करेंगे : केजरीवाल

Janta Se Rishta Admin
5 Feb 2022 7:24 AM GMT
पंजाब में AAP की सरकार बनेगी तो सरकारी नौकरी में भ्रष्टाचार खत्म करेंगे : केजरीवाल
x

पंजाब। पंजाब में आगामी विधानसभा चुनाव (Punjab Assembly Elections) के लिए आम आदमी पार्टी ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है. इसी बीच AAP (AAM Admi Party) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने पंजाब के हित में एक ऐलान किया है. उन्होंने कहा, पंजाब में इंडस्ट्री वापस आएगी, नई इंडस्ट्री खोली जाएगी, नए स्कूल और नए अस्पताल बनाए जाएंगे. हमने दिल्ली में ये करके दिखाया है. उन्होंने पंजाब के अन्य दलों पर निशाना साधते हुए कहा, कांग्रेस ने पंजाब में 26 साल और बादल जी ने 19 साल राज किया, इन्होंने पंजाब को बर्बाद कर दिया. पंजाब वासियों पर चिंता जताते हुए अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आगे कहा, घर-जमीन बेचकर 20-25 लाख रुपए इकट्ठा करके नौजवान पंजाब छोड़कर विदेश जाने पर मजबूर हैं, तो फिर पंजाब का क्या होगा? हम ये नहीं होने देंगे. AAP की सरकार बनेगी तो सरकारी नौकरी में भ्रष्टाचार खत्म करेंगे.

पंजाब में विधानसभा चुनाव की तारीख आगे बढ़ गई है. चुनाव आयोग ने सीएम चरणजीत सिंह चन्नी, बीजेपी और दूसरे विपक्षी दलों की मांग मानते हुए अब 14 फरवरी की जगह 20 फरवरी मतदान की तारीख तय की है.16 फरवरी को रविदास जयंती को देखते हुए आयोग ने चुनाव की तारीख आगे बढ़ा दी है. सभी 117 सीटों पर (Punjab Polling Schedule) एक चरण में 20 फरवरी को मतदान होगा. वहीं वोटों की गिनती 10 मार्च को की जाएगी. उम्मीदवारों को सुविधा ऐप के जरिए ऑनलाइन नामांकन की भी सुविधा दी गई है.' चमकौर साहिब (अनुसूचित जाति) और भदैड़ (अनुसूचित जाति) सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं. चन्नी के दो सीट से चुनाव लड़ने के फैसले पर आम आदमी पार्टी (आप) के नेता अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैंने कहा ही था कि हमारे सर्वेक्षण के अनुसार चमकौर साहिब से चन्नी हार रहे हैं. चन्नी ने तब केजरीवाल को पंजाब के किसी भी निर्वाचन क्षेत्र से उनके खिलाफ चुनाव लड़ने की चुनौती दी थी.

अपने क्षेत्र से अपनी जीत के प्रति आश्वस्त कांग्रेस नेता ने कहा जहां धर्म है, वहां जीत होगी. सिद्धू ने कहा कि अमृतसर पूर्व कांग्रेस की सीट है, यह हमारे लिए भी प्रतिष्ठा का विषय है. बिक्रम सिंह मीजीठिया के सिर्फ अमृतसर पूर्व से चुनाव लड़ने के ऐलान के बाद सिद्धू बुधवार अपने दस कार्यक्रम रद्द करने के बाद वैष्णो मां के दरबार में नतमस्तक होने चले गए हैं. मजीठिया ने दावा किया कि सिद्धू अमृतसर पूर्व से हारेंगे, उन्होंने उन पर निर्वाचन क्षेत्र के लोगों के लिए कुछ नहीं करने का आरोप लगाया.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta