भारत

देखें LIVE बुलेटिन, और बने रहिए jantaserishta.com पर

Janta Se Rishta Admin
26 May 2022 9:37 AM GMT
देखें LIVE बुलेटिन, और बने रहिए jantaserishta.com पर
x

झारखण्ड। आय से अधिक संपत्ति मामले में अपनी विधायकी गवां चुके झारखंड के पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता बंधु तिर्की (Congress leader Bandhu Tirkey) के घर पर सीबीआई की टीम ने दबिश दी है. 34वें नेशनल गेम घोटाले (34th National Games scam) के मामले में सीबीआई ने यह छापेमारी की है. देश भर में 16 ठिकानों पर सीबीआई ने छापेमारी की है. जिसमें झारखंड में 12, बिहार में 2 और दिल्ली में 2 जगहों पर छापेमारी की खबर है. बंधु तिर्की के रांची के मोरहाबादी स्थित आवास और बनहोरा स्थित आवास पर सीबीआई की टीम छापेमारी कर रही है (CBI Raid at Bandhu Tirkey residence). खेल के लिए टेंडर पास होने और बांटने के दौरान बंधु तिर्की झारखंड सरकार में खेल मंत्री थे.

पूर्व खेल मंत्री बंधु तिर्की पर आरोप है कि उन्होंने धनबाद में दो स्क्वैश कोर्ट के निर्माण में वित्तीय अनियमितता की. स्क्वैश कोर्ट के निर्माण की जिम्मेदारी मुंबई की एक कंपनी जाइरेक्स इंटरप्राइजेज को दी गई थी. कंपनी ने 1,44,32,850 रुपये का एस्टीमेट दिया था। इस प्रस्ताव पर आयोजन समिति के महासचिव एसएम हाशमी और तत्कालीन खेल निदेशक तथा सचिव की अनुशंसा के बाद फाइल तत्कालीन विभागीय मंत्री (खेल मंत्री) बंधु तिर्की के पास भेजी गई थी। बंधु तिर्की ने नीतिगत निर्णय लेते हुए 20 अक्टूबर 2008 को इसे अनुमोदित कर दिया था. इसमें कंपनी को अग्रिम 50 लाख रुपये दिए गए थे, लेकिन बाद में बिना स्वीकृति के भुगतान के कारण वित्तीय अनियमितता की पुष्टि हुई थी.

इधरे बंधु तिर्की ने साल 2005-2009 के दौरान झारखंड के मंत्री के रूप में 6,28,698 रुपये जमा किए थे. इस मामले मे कोर्ट ने कुछ महीने पहले सजा का ऐलान किया था. सीबीआई कोर्ट ने कांग्रेस नेता बंधु तिर्की को तीन साल कठोर कारावास की सजा सुनाई. झारखंड हाई कोर्ट में यह मामला आने के बाद 11 अगस्त 2010 को सीबीआई ने कांग्रेस नेता के खिलाफ FIR दर्ज की थी. 16 जनवरी 2019 को कांग्रेस नेता बंधु तिर्की पर कोर्ट में आरोप गठित हुआ था. जिसके बाद मार्च 2022 में कोर्ट ने उन्हें तीन साल कठोर कारावास की सजा सुनाईय कोड़ा कांड में सीबीआई ने 11 अगस्त 2010 को बंधु तिर्की के खिलाफ आय से ज्यादा संपत्ति अर्जित करने के मामले में FIR दर्ज की थी. इस मामले पर स्पेशल सीबीआई कोर्ट सुनवाई कर रहा था. आरोप तय होने और सजा के ऐलान होने के बाद बंधु तिर्की को विधायकी गंवानी पड़ी थी.

Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta