भारत

शातिर लुटेरों को दबोचा गया, पास था मोबाइल फोन, कर दी ये गलती

jantaserishta.com
29 Oct 2022 3:53 AM GMT
शातिर लुटेरों को दबोचा गया, पास था मोबाइल फोन, कर दी ये गलती
x

न्यूज़ क्रेडिट: आजतक | DEMO PIC 

आपस मे गहरी दोस्ती तो है, साथ ही ये तीनों लूट की वारदात को अंजाम देने एक साथ बुलेट मोटरसाइकिल से निकलते थे.
देवरिया: उत्तर प्रदेश की देवरिया के थाना तरकुलवा की पुलिस ने तीन ऐसे शातिर लुटेरों को गिरफ्तार किया है जिनकी आपस मे गहरी दोस्ती तो है, साथ ही ये तीनों लूट की वारदात को अंजाम देने एक साथ बुलेट मोटरसाइकिल से निकलते थे. ये लोग नकाब लगाकर पलक झपकते ही दोपहिया वाहन वालों को अपना शिकार बना लेते थे. सीओ सिटी श्रेयस त्रिपाठी ने बताया कि इनके पास से लूट में इस्तेमाल की जाने वाली बुलेट, लूट के 41 हजार रुपये कैश और लूट के ही एप्पल कम्पनी का आईपैड और एंड्रॉयड फोन बरामद किया गया है. पुलिस ने इनके पास से दो तमंचा और जिंदा कारतूस भी बरामद किया है.
गौरतलब है कि 26 अक्टूबर की रात दवा कम्पनी में काम करने वाले MR शिवेश मिश्रा अपनी मोटरसाइकिल से कुशीनगर से अपने घर देवरिया लौट रहे थे तो थाना तरकुलवा क्षेत्र के मुंडेरा बाबू के समीप पेट्रोल पम्प के पास ये लुटेरे तमंचे के बल पर उनसे सामान, पैसा और मोबाइल लूट कर फरार हो गए. पीड़ित ने तत्काल इसकी सूचना तरकुलवा पुलिस को दी. थानाध्यक्ष दिनेश कुमार मिश्रा ने MR के नम्बर को जैसे ही सर्विलांस पर लगाया वैसे ही लोकेशन ट्रेस हो गयी और फौरन एसओजी प्रभारी अनिल यादव, उनकी टीम व तरकुलवा पुलिस ने इन लुटेरों को ट्रेस हुए लोकेशन पर पहुंचकर दबोच लिया. वास्तव में लूट के बाद फोन को स्विच ऑफ करने की समझ लुटेरों को नहीं थी. यही वजह है कि वह पुलिस के हाथ लग गए.
जब पुलिस ने इनसे कड़ाई से पूछताछ की तो पता चला कि इन लोगों ने इसी इलाके में पहले भी लूट की वारदातों को अंजाम दिया था. जिसका मुकदमा तरकुलवा थाना में दर्ज है. पहली लूट 18 मई को थाना तरकुलवा के पथरदेवा बाजार के आगे बघौचघाट की तरफ ग्राम महुआरी के पास से की गई थी. इसके बाद 23 जून की रात में ग्राम मुंडेरा बाबू के पास पेट्रोल पंप से नजदीक तेज पूज्य त्रिपाठी से असलहे के बल पर रुपए की लूट की गई थी और तीसरी 26 अक्टूबर को रात थाना तरकुलवा अंतर्गत ग्राम मुंडेरा बाबू में स्थित पेट्रोल पंप के पास MR शिवेश मिश्रा से असलहे के बल हुई जिसमें एप्पल कंपनी का आईपैड और मोबाइल छीना गया था. इस घटना के बाद ये तीनों अब पुलिस की गिरफ्त में हैं.
ये तीनों शातिर अपराधी कुशीनगर जिले के रहने वाले साहिल अंसारी उम्र (24 वर्ष), प्रकाश कुमार प्रसाद (उम्र 19) वर्ष और सिकन्दर अहमद (उम्र 19) वर्ष हैं. इनके खिलाफ विभिन्न धाराओं में 323,392,411, 504,506,3/2 मुकदमे दर्ज हैं. साथ ही साहिल और प्रकाश के खिलाफ आर्म्स एक्ट में भी केस दर्ज है.
थाना प्रभारी ने बताया कि पूछताछ में लुटेरों ने बताया कि वे दो पहिया वाहनों को निशाना बनाते थे जो अपना बैग पीठ की बजाय पेट की तरफ यानी सामने की तरफ लटका कर रखते थे. ये इसी से अंदाजा लगाते थे कि इनके पास ज्यादा पैसा होगा. यही अंदाजा इनके द्वारा MR से लूट में किया गया लेकिन शिवेश के पास कैश तो कुछ खास नहीं था पर एप्पल कम्पनी का आईपैड और एंड्रायड फोन था और ये उसको स्विच ऑफ करनें में नाकामयाब हुए.
पुलिस टीम में थाना अध्यक्ष दिनेश कुमार मिश्रा, सब इंस्पेक्टर राम मोहन सिंह, सब इंस्पेक्टर संजीव कुमार राय, एसओजी प्रभारी अनिल यादव, सब इंस्पेक्टर कमलेश कुमार, हेड कांस्टेबल विजय वर्मा, शशि कांत राय, धनंजय श्रीवास्तव, अनिल कुमार राय, कांस्टेबल कृष्ण गोपाल, सदरूद्दीन, आदर्श तिवारी, सज्जन चौहान, मेराज खान, दिव्य शंकर राय और विमलेश कुमार शामिल थे.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta