भारत

बीच सड़क युवती ने रोकी परिवहन मंत्री की गाड़ी, की खास डिमांड, देखे वीडियो

jantaserishta.com
4 Jan 2022 3:25 PM GMT
बीच सड़क युवती ने रोकी परिवहन मंत्री की गाड़ी, की खास डिमांड, देखे वीडियो
x
पढ़े पूरी खबर

देश में कुछ व्यवसाय ऐसे जिसमें पुरुष कर्मचारियों की संख्या महिलाओं की तुलना में बहुत अधिक है. तो कुछ ऐसे भी व्यवसाय हैं, जिनमें महिलाओं को या तो मौका नहीं दिया जाता या ये मान लिया जाता है कि ऐसे व्यवसाय महिलाओं के लिए अनुकूल नहीं हैं. इन्हीं व्यवसायों में एक व्यवसाय बस ड्राइविंग का भी है. बस ड्राइवर के तौर पर ज्यादातर नियुक्तियां पुरुषों की होती हैं. जबकि महिलाओं की संख्या इस प्रोफेशन में न के बराबर होती है. हालांकि ज्यादातर क्षेत्रों में महिलाओं ने अपनी पहुंच सुनिश्चित कर ली है, लेकिन अभी भी कुछ क्षेत्र ऐसे हैं, जहां उनकी मौजूदगी को महत्व नहीं दिया जाता है.



हालांकि महिलाएं अब हर क्षेत्र में अपनी मौजूदगी दर्ज कराना चाहती है. हरियाणा की 25 साल की सोनिया बस ड्राइविंग करने की इच्छुक हैं. इसी इच्छा के साथ उन्होंने पंजाब के ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर अमरिंदर सिंह राजा की कार रास्ते में रोक दी. पंजाब के मंत्री ने भी अपनी कार रोककर सोनिया से बात की और उनसे उनके माता-पिता के बारे में पूछा. इसके जवाब में सोनिया ने कहा, 'मम्मी हरियाणा में हैं, पापा नहीं है.'
हर परिस्थिति से लड़ने के लिए हूं तैयार- सोनिया
सोनिया ने पंजाब के परिवहन मंत्री से कहा कि उन्हें 'यूनिक जॉब' चाहिए. सोनिया एक स्पोर्ट्सपर्सन हैं. उन्होंने मंत्री राजा से कहा कि उन्हें बस ड्राइविंग ही करनी है. इसके बाद मंत्री ने किसी से फोन पर बात कर कहा, 'एक लड़की बस ड्राइविंग करना चाहती है. उसके पास हैवी लाइसेंस है. प्लीज उसकी मदद कीजिए. वो गाड़ी चला सकती है. उसे हायर कीजिए और ड्राइव करने दीजिए.' इसके जवाब में फोन पर बात कर रही महिला कहती है, 'माहौल खराब है. पुरुष कंडक्टर हैं.' हालांकि सोनिया ने कहा कि वो हर परिस्थिति से लड़ने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं.
देश की अधिकतर महिलाओं को मिलेगा प्रोत्साहन
अमरिंदर सिंह राजा ने कहा फोन पर बात कर रहीं महिला से अपील की कि वो सोनिया को बस ड्राइविंग का चांस दें क्योंकि इससे समाज में एक अच्छा संदेश जाएगा. 25 वर्षीय सोनिया एक निडर महिला हैं. उनके बस ड्राइविंग के कदम से देश की अधिकतर महिलाओं को प्रोत्साहन मिलेगा. इस क्षेत्र में जहां महिलाओं की संख्या मुट्ठी भर भी नहीं है, वहां सोनिया की पहुंच कई महिलाओं के दबे जज्बे को बाहर निकालने और उनकी हिम्मत को मजबूती प्रदान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta