Top
भारत

लड़की ने पहनी जींस, पिता गुस्से से हुए आग बबूला, पीट-पीटकर कर दी हत्या

Triveni
23 July 2021 1:15 AM GMT
लड़की ने पहनी जींस, पिता गुस्से से हुए आग बबूला, पीट-पीटकर कर दी हत्या
x
उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के देवरिया जिले के महुआडीह थाना क्षेत्र के एक गांव में कथित रूप से जींस-टॉप (Jeans-Top) पहनने की जिद करने पर एक किशोरी को उसके परिवार के सदस्यों ने बुरी तरह पीटा जिससे उसकी मौत हो गई.

देवरिया: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के देवरिया जिले के महुआडीह थाना क्षेत्र के एक गांव में कथित रूप से जींस-टॉप (Jeans-Top) पहनने की जिद करने पर एक किशोरी को उसके परिवार के सदस्यों ने बुरी तरह पीटा जिससे उसकी मौत हो गई. आरोप है कि परिजनों ने मौत के बाद देवरिया-कसया रोड पर पटनवा पुल से शव को फेंक कर उसे ठिकाने लगाने का प्रयास किया, लेकिन शव पुल की रेलिंग में फंस गया, जिसे मंगलवार को पुलिस ने बरामद किया.

सिर की हड्डी टूटने से हुई मौत
महुआडीह थाना प्रभारी राम मोहन सिंह ने गुरुवार को बताया कि मृत किशोरी का नाम नेहा पासवान (17) और उसके पिता का नाम अमरनाथ पासवान है. ये लोग सवरेजी खर्ग गांव के रहने वाले हैं. आरोप के मुताबिक, कथित रूप से जींस और टॉप पहनने की जिद करने पर लड़की के परिवार वालों ने सोमवार को उसकी बुरी तरह पिटाई की. इस संबंध में पुलिस क्षेत्राधिकारी (नगर) यश त्रिपाठी ने बताया कि मृतका की मां की ओर से मिली तहरीर में कहा गया है कि किशोरी के जींस-टॉप पहनने के कारण ही उसके साथ मारपीट हुई, और उसी दौरान चोट लगने से सिर की हड्डी के टूट गई और उसकी मौत हो गई.
पहले भी कई बार की थी किशोरी से मारपीट
त्रिपाठी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी सिर की हड्डी टूटने की पुष्टि हुई है. इससे पहले लड़की के भाई विवेक ने बताया था कि उसके चाचा और दादा-दादी ने उसकी बहन के कपड़े पहनने के ढंग से नाराज होकर उसे मारा-पीटा था जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गई थी. विवेक के मुताबिक, नेहा को पीटते वक्त उसके चाचा और दादा-दादी उसे लगातार अपशब्द कह रहे थे. वे अक्सर नेहा के जींस पहनने को लेकर आपत्ति करते थे और उस दिन भी उन्होंने उसे जींस पहनने से कई बार रोका था.
पुलिस ने इन धाराओं में दर्ज किया मुकदमा
थाना प्रभारी ने बताया कि मां ने बच्ची के दादा-दादी परमहंस और भगवान देवी तथा टेंपो चालक हसनैन समेत दस लोगों के खिलाफ नामजद शिकायत दी है जिसके आधार पर भारतीय दंड संहिता की धाराओं 302 (हत्या की सजा) और 201 (अपराध के सबूत मिटाना) सहित अन्य में मामला दर्ज किया गया है. उन्‍होंने कहा कि टेंपो चालक और दादा-दादी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. हालांकि थाना प्रभारी ने यह भी कहा कि जींस पहनने की जिद पर परिवार के सदस्यों के नाराज होने की कहानी बहुत आश्वस्त करने वाली नहीं है. घटना का कारण कुछ और प्रतीत हो रहा है जिसे परिजन छिपाने की कोशिश कर रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि मामले की जांच की जा रही है.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it