भारत

सॉल्वर गैंग के दो सदस्यों को एसटीएफ ने पकड़ा, महिला भी शामिल, जाने पूरा मामला

jantaserishta.com
7 Aug 2021 4:34 AM GMT
सॉल्वर गैंग के दो सदस्यों को एसटीएफ ने पकड़ा, महिला भी शामिल, जाने पूरा मामला
x
इस गैंग में एक सरकारी अध्यापक और एक महिला भी शामिल है.

बीएड की संयुक्त परीक्षा में नकल कराने वाले सॉल्वर गैंग के दो सदस्यों को एसटीएफ की प्रयागराज यूनिट ने गिरफ्तार कर लिया है. इस गैंग में एक सरकारी अध्यापक और एक महिला भी शामिल है.

सॉल्वर बालेंद्र सिंह और दीक्षा दूसरे अभ्यर्थियों की जगह परीक्षा दे रहे थे. दीक्षा कोरांव की कैंडिडेट उषा देवी की जगह पर परीक्षा देने आई थी जबकि सरगना बालेंद्र सिंह को कॉलेज गेट के बाहर से गिरफ्तार किया गया है. बालेंद्र शंकरगढ़ में इंटर कॉलेज में हिंदी और संस्कृत का सरकारी टीचर है जबकि दीक्षा गाजियाबाद में एचडीएफसी बैंक में रिसेप्शनिस्ट के पद पर कार्यरत है.
दीक्षा कई सालों से इस गैंग से जुड़ी हुई है. पूछताछ में पता चला है कि दीक्षा इसके पहले भी चार-पांच बार प्रतियोगी परीक्षाओं में सॉल्वर के रूप में मूल अभ्यर्थियों के स्थान पर परीक्षा दे चुकी है. इन दोनों आरोपियों को हंडिया के पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज से गिरफ्तार किया गया है.
ये एक्शन सीओ एसटीएफ नवेंदु कुमार के नेतृत्व में लिया गया. पूछताछ में ये भी जानकारी मिली है कि सॉल्वर गैंग विभिन्न परीक्षाओं में 50 हजार रुपये लेकर परीक्षा पास कराता था और परीक्षा पास होने के बाद 5 से 6 लाख तक की रकम कैंडिडेट को देनी होती थी.
दोनों के पास से एक ओएमआर शीट, एक बुकलेट, एक एडमिट कार्ड, दो आधार कार्ड, एक पैन कार्ड, एक ड्राइविंग लाइसेंस, दो मोबाइल फोन और 22 हजार रुपये नगद बरामद किए गए हैं. गौरतलब है कि शुक्रवार को पूरे प्रदेश में दो पालियों में ऑफलाइन लिखित परीक्षा आयोजित की गई थी.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta