भारत

बाढ़ से अब तक 18 लोगों की गई जान

Janta Se Rishta Admin
22 May 2022 1:03 AM GMT
बाढ़ से अब तक 18 लोगों की गई जान
x

असम. असम में पिछले कुछ दिनों से हो रही लगातार बारिश से यहां के लोगों का हाल बेहाल हो गया है. आसमान से बरस रही आफत के चलते कई इलाकों से भूस्खलन की घटना भी सामने आई है. असम में बाढ़ (Assam Flood) की स्थिति दिनोंदिन गंभीर होती जा रही है. बाढ़ का पानी कई इलाकों में घुस गया है और तबाही का मंजर दिख रहा है. राज्य में बाढ़ से 7 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं. वहीं, भारतीय वायु सेना (Indian Air Force) भी लगातार राहत और बचाव के अपने प्रयासों में जुटी हुई है. वायु सेना ने असम में किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए राज्य में An-32 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट, Mi-17 हेलीकॉप्टर, चिनूक हेलीकॉप्टर आदि विमान तैनात किए हैं.

जानकारी के मुताबिक, IAF ने सबसे ज्यादा प्रभावित हाफलोंग क्षेत्र में लगभग 30 टन जरूरी सामानों की सप्लाई करने और 454 नागरिकों को सुरक्षित बाहर निकालने के लिए एक An-32 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट, दो Mi-17 हेलीकॉप्टर, एक चिनूक हेलीकॉप्टर और एक ALH Dhruv तैनात किया है. वायु सेना ने बाढ़ प्रभावित राज्य में अपना बचाव और सेवा अभियान अब भी जारी रखा हुआ है. वायु सेना (IAF) ने बताया कि लोगों को जरूरी सामान उपलब्ध कराया जा रहा है. 454 नागरिकों को निकाला गया है. IAF ने बाढ़ राहत प्रयासों के लिए NDRF के 20 कर्मियों को क्षेत्र में तैनात किया है. वायु सेना NDRF और असम सरकार के साथ मिलकर काम कर रही है.

असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने बताया कि बाढ़ से प्रभावित 32 जिलों के 3246 गांवों की कुल 8,39,691 आबादी भूस्खलन (Landslides) से प्रभावित हुई है. राज्य में बाढ़ की वजह से अब तक कुल 18 लोगों की मौत हो गई है. इनमें से 9 लोगों की मौत बाढ़ से, जबकि 5 की मौत भूस्खलन के चलते हुई है. सेना के Mi-17 हेलीकॉप्टरों ने दितोचेरा रेलवे स्टेशन (Ditokchera Railway Station) पर फंसे 119 यात्रियों को सुरक्षित निकाला. IAF लगातार राज्य में बचाव और सुरक्षा कार्यों में लगा हुआ है. असम बाढ़ के मद्देनजर राज्य के अलग-अलग जिलों में प्रभावित हजारों लोगों ने शनिवार को रिलीफ कैंप्स (Relief Camps) में पनाह ली. इन राहत शिविरों में राहत सामग्री भी वितरित की जा रही है.

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta